Home धार्मिक अमझेरा - श्रीकृष्ण-सुदामा के मार्मिक प्रसंग एवं शोभायात्रा व महाप्रसादी वितरण के...

अमझेरा – श्रीकृष्ण-सुदामा के मार्मिक प्रसंग एवं शोभायात्रा व महाप्रसादी वितरण के साथ सातदिवसीय भागवतकथा का समापन, हिन्दू चेतना मंच के कार्यकर्ताओं ने किया भागवताचर्य श्री शास्त्रीजी का किया सम्मान

अमझेरा। श्रीराम चौक हिन्दू चेतना मंच पर चल रही श्रीमद् भागवतकथा के समापन के दौरान श्रीकृष्ण-सुदामा का मार्मिक जीवंत चित्रण किया गया जिसमें हिन्दू चेतना मंच के कलाकार दक्षसिंह ने श्रीकृष्ण एवं लक्ष्मीकांत शर्मा ने सुदामा का सुंदर अभिनय करते हुए अरे द्वारपालो कन्हैया से कहना और अरे मेरे यार सुदमा रे तु घणा दिना मे आया पर नृत्य किया साथ ही उपस्थित श्रद्धालुजन भी मंत्रमुग्ध हो गये। भगवाचार्य पंडित बालकृष्णजी शास्त्री ने दान की महिमा का विस्तार से बताया एवं कहा कि भागवत कथा सदैव श्रवण करना चाहिये तथा जहॉ भी कथा-सत्संग होता है हमें अवष्य ही वहां जाना चाहिये एवं जीवन में हमेशा सद्कार्य करते रहना चाहिये। भावगत कथा के समापन पर हिन्दू चेतना मंच के सभी कार्यकर्ताओं के द्वारा भागवताचार्य का अभिनंदन पत्र देकर सम्मान किया गया साथ ही भागवत कथा के सुंदर आयोजन को कराये जाने पर शर्मा परिवार अमझेरा के जगदीशचंद्र शर्मा व विनायक शर्मा को भी अभिनंदन पत्र देकर सम्मान किया गया साथ ही उपस्थित श्रद्धालुजनों के द्वारा भी व्यासपीठ का पूजन एवं गुरूजी का स्वागत किया गया। आरती के पश्चात भागवत पौथी की शोभायात्रा ढोल-ढमाके के साथ नाचते-गाते हुए निकाली गई जो पांडाल स्थल से श्री द्वारिकाधीश मंदिर तक निकाली गई। कथा के समापन पर महाप्रसादी का वितरण किया गया जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुजनों ने सम्मलित होकर धर्म का लाभ लिया।

कार्यक्रम का संचालन पंडित योगेन्द्रजी एवं गोपाल सोनी के द्वारा किया गया। आभार विक्रमसिंह राठौर तथा अजय शर्मा के द्वारा व्यक्त किया गया। आयोजक परिवार के जगदीशचंद्र शर्मा के द्वारा हिन्दू चेतना मंच के भारतसिंह ठाकुर, विनोद दीक्षित, कमलेश ठाकुर, नरेन्द्र कुमावत, नारायण दीक्षित, शुभम दीक्षित, आशीष पंचोली, प्रकाश गणवा, निलेश शर्मा, मोहन शर्मा आदि कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!