Home सामाजिक राजगढ़ - मानव सेवा हास्पिटल में मरीजों को किए फल वितरित, 21...

राजगढ़ – मानव सेवा हास्पिटल में मरीजों को किए फल वितरित, 21 को हरिद्वार के लिए होंगे रवाना, आचार्यश्री तप और त्याग की प्रतिमूर्ति थे – पूरब फरबदा

राजगढ़। आचार्यश्री नवरत्न सागरसूरिश्वरजी तप और त्याग की प्रतिमूर्ति थे। वे हमेशा से ही दुखी, रोगी एवं असहायों की सहायता करने की प्रेरणा देते रहते थे। वे कहते थे कि दुखी व रोगियों में प्रभू का वास रहता हैं। उनकी सेवा व सहायता प्रभु की सेवा एवं सहायता मानी जाती हैं। उक्त बातें आचार्यश्री की मासिक पूण्यतिथि के अवसर पर मानव सेवा हास्पिटल में द वर्ल्ड डायमंड फाउंडेशन ट्रस्ट एवं नवरत्न परिवार द्वारा फल वितरण समारोह के दौरान नवरत्न परिवार अध्यक्ष पूरब फरबदा ने कहीं। आपने कहा कि आचार्यश्री पट्टधर यूवाचार्य श्री विश्वरत्न सागरसूरिश्वरजी ने द वर्ल्ड डायमंड फाउंडेशन ट्रस्ट की स्थापना समाज के कमजोर एवं दिन दुखियों की सेवा करने के लक्ष्य से ही की थी। ट्रस्ट इस दिशा में लगातार प्रयत्नशील हैं। नवरत्न परिवार भी ट्रस्ट के इस प्रयास में हर संभव मदद करने में तत्पर हैं। मानव सेवा हास्पिटल में फल एवं बिस्किट समारोह के आयोजन में ट्रस्ट के संदीप जैन, पुष्पेंद्र कांग्रेसा एवं सुनील संघवी मौजूद थे। वही नवरत्न परिवार की ओर से पूरब फरबदा, अभिषेक पारक, नितिन चौहान, राहुल खिमेसरा, नितेश कांग्रेसा आदि मौजूद थे। सुमित जैन एवं शालू गेहलोद ने ट्रस्ट के पुनीत कार्य की सराहना करते हुए आभार व्यक्त किया।

21 सितंबर को होंगे हरिद्धार रवाना – नवरत्न परिवार के विहार सेवा प्रमुख सुनील फरबदा ने बताया कि नवरत्न परिवार का राष्ट्रीय महासम्मेलन आगामी 24 एवं 25 सितंबर को यूवाचार्यश्री निश्रा में हरिद्धार में आयोजित होने जा रहा हैं। इसमें सहभागिता करने के लिए संपूर्ण देश से हजारों की यूवागण पहुंच रहे हैं। राजगढ़ से भी बड़ी संख्या में यूवा कार्यकर्ता हरिद्वार जाने के कार्यक्रम को अंतिम रूप दे चूके हैं। 21 सितंबर को वे हरिद्वार के लिए प्रस्थान करेंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!