Home धार जिला अमझेरा - तेंदुए का आतंक बरकरार, मामा के घर राखी का त्यौंहार...

अमझेरा – तेंदुए का आतंक बरकरार, मामा के घर राखी का त्यौंहार मनाने गए 10 वर्षिय बालक का किया शिकार, बालक की हुई मौत

अमझेरा-सरदारपुर। जिले के अमझेरा क्षेत्र से सटे भेरूघाट के जंगलो में तेंदुए का आतंक लगातार बढ़ता जा रहा है। तेंदुए ने एक माह के दौेरान दो बच्चो को मौत के घाट उतार दिया है। जिससे क्षेत्र के लोगो में भी भय और दहशत माहोल पैदा हो गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अमझेरा इंदिरा काॅलोनी का रहने वाला 10 वर्षिय संदीप पिता राजू डामोर अपनी माता सेलकुबाई के साथ अपने मामा कमल मेड़ा के घर ग्राम कड़दा में राखी का त्यौंहार मनाने के लिए गया था। सोमवार को वह अपने मामा की लड़की रंजना के साथ मवेेशी चराने के लिए जंगल में चला गया था। जहा घात लगाकर झाड़ियो में बैठे तेंदुए ने संदीप पर झपटा मारकर उसे दबोच लिया और उसे मौत के घाट उतार दिया। शोर मचाने पर उसके मामा व अन्य ग्रामीण मौके पर पहुंचे और तेंदुए को वहा से भगाया लेकिन संदीप को बचाया नहीं जा सका उसने मौके पर दम तोड़ दिया था। सुचना मिलने पर केशवी पुलिस चौकी एवं वनविभाग की टीम एवं अधिकारी मौके पर पहुंचे और परिजनो को सांत्वना प्रदान की एवं बालक की अंत्येष्ठी के लिए राशि दी गई वहीं शासन स्तर पर विभाग जो राशि मिलेगी उसके लिए पंचनामे आदी की कार्यवाही की गई। तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरे एवं केमले लगाने की कवादय की जा रही है। बालक का अमझेरा के हाॅस्पिटल में पीएम कर परिजनो को सुपुर्द किया गया। वन विभाग की टीम में प्रांजय श्रीवास्तव अमझेरा रेंज अधिकारी, इकबाल बेग डीप्टी रेंजर जीराबाद, कलमसिंह बघैल बीटगार्ड, महेश अहीरवाल रेंज अधिकारी सरदारपुर मौके पर पहुचे थे। एसडीओ धार संतोष कुमार रणछोड़े ने बताया की जंगली जानवर के हमले से बालक की मौत हुई जो दुखद घटना है। तेंदुए को पकड़ने के प्रयास किये जा रहे है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!