Home झाबुआ जिला झाबुआ - बीएसएफ जवान करण सिंह मखोड़ के सेवानिवृत्त होकर अपने गांव...

झाबुआ – बीएसएफ जवान करण सिंह मखोड़ के सेवानिवृत्त होकर अपने गांव झकनावदा आगमन पर निकाली रैली, विभिन्न संगठनों सहित ग्रामीणों ने जगह-जगह किया भव्य स्वागत

विशेष संवाददाता सुमित राठौर @ झाबुआ। अनेक स्वतंत्रता सेनानियों ने जन्म लिया एवं अपने भारत देश को अंग्रेजों की गुलामी से मुक्त कराया मातृभूमि की सेवा करते हुए अपने प्राण न्योछावर कर दिए देश की सेवा कई तरह से की जाती है जैसे भ्रष्टाचार मुक्त भारत, गरीबी मुक्त भारत, असाक्षरता मुक्त भारत करने में जो देश सेवा की जाती है उसी तरह बहुत से लोग पढ़ लिख कर पुलिस में जाते हैं और देश की रक्षा करते हैं यह भी एक जन सेवा है उसी तरह बहुत से नौजवान आर्मी जॉइन करते हैं और भारत के कोने-कोने में जाकर सीमा पर सुरक्षा बल के रूप में देश सेवा करते हैं जब हम सोते हैं तब वह जागते हैं और हमारे बच्चे, परिवार की रक्षा करते हैं कहते हैं ना कि भारत भूमि शूर वीरो की भूमि रही है भारत भूमि पर ऐसे अनेक शूर वीरों ने जन्म लिया एवं जिन्होंने अपने प्राण मां भारती की रक्षा करते हुए न्योछावर कर दिए। इसी क्रम में झकनावदा नगर से महज 1 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम भूरीघाटी मैं गरीब परिवार में पले बढ़े हुए श्री करण सिंह मखोड़ बीएसएफ जवान को अपने परिवार से दूर रहकर 35 वर्ष 4 माह तक देश के कोने कोने में बीएसएफ सीमा सुरक्षा बल में हेड कांस्टेबल के पद पर रहते हुए मां भारती की रक्षा करने वाले वीर सैनिक को कैसे भूल सकते हैं। जिनके पिता श्री स्वर्गीय वरसिह मखोड (कृषक) एवं स्वर्गीय झबली बाई मखोड (गृहिणी) ने शुरू से ही गरीबी से लड़ते हुए अपने बच्चों का पालन पोषण किया एवं पढ़ाया। श्री मखोड की मिडिल क्लास की शिक्षा पेटलावद तहसील के बामनिया में संपन्न हुई आपको बता दें कि कक्षा आठवीं की पढ़ाई पूर्ण होने के बाद देश सेवा के लिए 1986 में सौभाग्य प्राप्त हुआ एवं उन्हें 10 माह इंदौर ट्रेनिंग मैं जाने के लिए 40 रुपये भी बड़ी मुश्किल से प्राप्त हुए आज सेवानिवृत्त होने के बाद अपने वतन लौटने पर जनजातिय विकास मंच झकनावदा एवं अनेक धार्मिक संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा मंगलवार को नदिया पार राजगढ़ रतलाम रोड पर पुल के पास में प्रथम स्वागत महाकाल मित्र मंडल, आजाद अध्यापक शिक्षक संघ झकनावदा, जयस संगठन आदि के कार्यकर्ताओं द्वारा पुष्प मालाओं से स्वागत किया। इसके बाद एक रैली स्वागत यात्रा के रूप में ढोल व डी जे के साथ निकाली गई। जोकि स्थानीय बस स्टैंड पर पहुंची यहां पर झकनावदा पत्रकार संघ द्वारा शाल श्री फल व पुष्पमालाओ से उनका स्वागत किया गया। चौधरी कांम्पलेक्स पर जनजाति विकास मंच के कार्यकर्ताओं द्वारा उनका स्वागत पुष्पमालाओ से एवं ग्राम पंचायत भवन पर भारतीय जन परिषद के सदस्यों द्वारा उनका स्वागत किया गया। झकनावदा एवं क्षेत्र के आसपास स्थित गांव वासियों एक देश सेवक की स्वागत यात्रा में अधिक से अधिक संख्या में पधार कर स्वागत किया। इस अवसर पर जनजाती विकास मंच से गोरसिह कटारा, प्रवीण मेहता, संजय मखोड़, कुलदीप तारखेड़ी, महेन्द्र राठौर, अरविंद राठौर, वीरेन्द्र एवं पत्रकार संघ से रमेश सोलंकी, आनंद सिह सोलंकी, चंद्रशेखर राठौर, राकेश लछेटा आदि पत्रकारों उपस्थित थे। संचालन शैतानमल कुमट ने किया।जयस संगठन की ओर से रोशन सिगाड़, श्रवण मेड़ा, मेहसरसिह गुङिया सहित कार्यकर्ताओ ने स्वागत किया। बालक प्राथमिक विद्यालय झकनावदा के स्कुल प्रांगण मे प्रभारी हेमंत कुमार जोशी, विधायक प्रतिनिधि जितेन्द्र राठोड़, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य रमेश कुमार चौरसिया ने स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन पुनमचन्द्र कोठारी ने किया। इस अवसर पर अरविंद मेड़ा, नाथुलाला कटारा, जितेन्द्र मेड़ा, धनराज भूरिया, सत्यनारायण राठौड़, मकवाना टीचर, मोनु राठोर तथा स्कूल का स्टाफ के द्वारा स्वागत किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!