Home अपना शहर मोहनखेड़ा तीर्थ पर आचार्यश्री के समाधि स्थल पर पहुँचकर राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह...

मोहनखेड़ा तीर्थ पर आचार्यश्री के समाधि स्थल पर पहुँचकर राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह ने दी श्रद्धांजलि, कहा – तीर्थ के विकास में आचार्यश्री की रही महत्वपूर्ण भूमिका

राजगढ़। सोमवार को राज्यसभा सांसद एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह जैन महातीर्थ श्री मोहनखेड़ा पहुँचे। तीर्थ पर भगवान आदिनाथ व दादा गुरुदेव की पूजा अर्चना करने के पश्चात तीर्थ के सूत्रधार गरीबो के मसीहा, जीवदया प्रेमी आचार्य देवेश श्रीमदविजय ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी म.सा. के समाधि स्थल पहुचकर पुष्पांजली अर्पित की। तीर्थ पर विराजित आचार्य श्री के शिष्य पीयूषचंद्र विजयजी म.सा. से चर्चा कर आशीर्वाद लिया। इस दौरान श्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि आचार्य श्री की श्री मोहनखेड़ा तीर्थ विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि मानव सेवा के साथ जीवो के प्रति भी उनके उदार भाव हमेशा देखने को मिले है। तीर्थ पर पत्रकारों से चर्चा के दौरान राज्यसभा सांसद श्री दिग्विजयसिंह ने कहा कि नेपावर की घटना अत्यंत दुःखनिय है। जो कृत्य नेपावर में हुआ है। उससे यह लगता है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। प्रदेश में लगातार महिला अत्याचार के मामले बढ़ रहे है। खरगोन में पत्रकारों पर दर्ज हुए प्रकरण की घटना पर उन्होने कहा कि भाजपा सरकार सच को दबाने की कोशिश कर रही है। सरकार व अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि नेता से लेकर अधिकारी तक सब भ्रष्टाचार में लिप्त है, मैं इस घटना की निंदा करता हू। प्रदेश में वैक्सीन की किल्लत को लेकर उन्होंने कहा कि प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध नही है। इसलिए टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन नही मिल पा रही है।
इस दौरान क्षेत्रीय विधायक प्रताप ग्रेवाल, धरमपुरी विधायक पांचीलाल मेड़ा, कुक्षी विधायक हनि बघेल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मनोज सिंह गौतम, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष पुष्पेंद्रसिंह बना, तीर्थ के मैनेजिंग ट्रस्टी सुजानमल जैन, मेघराज जैन, तीर्थ प्रबंधक अर्जुन प्रसाद मेहता, युका विधानसभा अध्यक्ष दिनेश चौधरी, राजगढ़ नप अध्यक्ष भंवर सिंह बारोड़, उपाध्यक्ष अजय जायसवाल, संजय जायसवाल सहित कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!