Home सरदारपुर - विधानसभा सरदारपुर - सही विवेचना कर धारा बढ़ाने की मांग को लेकर एसडीओपी...

सरदारपुर – सही विवेचना कर धारा बढ़ाने की मांग को लेकर एसडीओपी को दिया आवेदन, कहा – मिडली डिप्रेस फैक्चर फ्रंटल बोर्न के बावजूद नही लगी सही धारा

सरदारपुर। ग्राम खुंटपला मे दिनांक 10 जून को खेत के सीमांकन के दौरान दो पक्षो मे विवाद एवं मारपीट हुई। जिसकी शांतिलाल पिता गोमालाल मारू निवासी खुंटपला द्वारा घटना की रिपोर्ट थाना राजोद में दर्ज करवाई गई। जिसमे मोतीलाल पिता नैमा मारू, त्रिलोकचन्द पिता नैमा मारू, जीवन पिता रूपचन्द मारू, संतोष पिता मोतीलाल मारू निवासी खुंटपला के पर धारा 294, 323, 506, 34 मे प्रकरण दर्ज किया गया। मामले की सही विवेचना नही होने, धारा 307 नही बढाने, आरोपियो को गिरफ्तार नही करने एवं सही विवेचना नही करने वाले पुलिसकर्मी पर कार्यवाही करने की मांग को लेकर पीडित पक्ष द्वारा शनिवार को एसडीओपी रामसिंह मेडा को आवेदन सौंपकर संतोष पिता गोमालाल को सिर मे गंभीर चोट होने पर आरोपियो पर धारा 307 बढाने एवं निष्पक्ष विवेचना कर आरोपियो को शीघ्र ही गिरफ्तार करने की मांग की है। पीडित पक्ष के शांतिलाल पिता गोमालाल द्वारा बताया गया कि मेरे भाई संतोष के सिर मे मिडली डिप्रेस फैक्चर फ्रंटल बोर्न मे हुआ लेकिन थाना राजोद की पुलिस के विवेचक आरोपीगण से मिले हुए है। इस कारण से सही विवेचना नही कर रहे है। धारा 307 बढना चाहिए जबकि पुलिस राजोद आरोपीगण से मिली होकर घटना मे 326 बढाई जा रही है एवं सही जवाब नही दे रहे है। वर्तमान मे घटना को 16 दिवस हो जाने के बावजूद आरोपीगण को फायदा पहुचाने की नियत से उनकी गिरफ्तारी नही की जा रही है। जबकि आरोपीगण मे से 2 आरोपी मोतीलाल पिता नैमा मारू, त्रिलोकचन्द पिता नैमा मारू शासकीय सेवक होकर शिक्षक के रूप मे कार्यरत है। घटना दिनांक को पुलिस तथा ग्राम सरपंच, पटवारी, राजस्व निरीक्षक भी घटनास्थल पर मौजूद थे। इन सभी के सामने आरोपीगणो द्वारा घटना कारित की गई है। इस दौरान शांतिलाल चौधरी, गणेश कटारा, करणसिंह कटारा, मोहन कटारा, मुन्नालाल जाट, सोमालाल गामड, जगदीश मारू, बलराम मारू, राहुल मारू, अंकित मारू, दिलीप धनेरिया, गट्टु गुगावण, पारस गिरवाल, जितेन्द्र राठौड, विजय बैरागी आदि ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!