Home अपना शहर राजगढ़ - अक्षर गणेश कलाकार के नाम से फेमस राहुल अब पूरे...

राजगढ़ – अक्षर गणेश कलाकार के नाम से फेमस राहुल अब पूरे भारत से वीआईपी कलाकार बन जाएंगे दुबई, “आर्ट दुबई फेस्टिवल” में होंगे शामिल

राजगढ़। पेंटिंग में रुचि रखने वाले राजगढ़ के अंतराष्ट्रीय राहुल व्यास के हाथ में रंग आते ही कलाकारी  जीवंत हो उठती है और गुढ़ से गुढ़ बात भी सहज व्यक्त हो जाती है । एक छोटे से नगर में रहने वाले व्यास ख्वाबों को मंज़िल तक पहुँचाने का जुनून रखते है, कुचीं से कुछ ऐसा बनाना जिससे एक नई पहचान बन सके यहीं सोच बहुत ही काम वर्ष में अक्षर गणेश कलाकृति का निर्माण किया और अक्षर गणेश कलाकार के नाम से पहचाने जाने लगे । दुबई के सबसे प्रसिद्ध “आर्ट दुबई फेस्टिवल” में भारत से एक मात्र वीआईपी कलाकार के रूप में आमंत्रित किया है । दुबई इंटरनेशनल फाइनेंसियल सेंटर में आयोजित होने वाले इस भव्य फेस्टिवल की शुरुआत होगी, यह कार्यक्रम 3 दिवसीय रहेगा जिसमे कलाकार व्यास, आर्ट टॉक के जरिये अपनी कलाकृति की जानकारी देंगे साथ ही वहाँ मौजूद सभी यंग कलाकारों से रूबरू हो कला के विस्तार को समझाएंगे। नगर, जिले, प्रदेश के साथ इस बार पूरे भारत से चयनित होने वाले एक मात्र कलाकार है । यह एक मौका नहीं है जब राहुल अंतराष्ट्रीय स्तर पर अपना वर्चस्व कायम कर पाए है इसके पहले भी वर्ल्ड आर्ट दुबई, आर्ट रशिया फेयर, एक्सपो शिकागो में भी हिस्सा ले चुके है । भारत सरकार द्वारा दो बार इन्हें सम्मानित किया जा चुका है जिसमे एक बार एक्सपर्ट आर्टिस्ट का खिताब तथा एक बार स्टार आर्टिस्ट का खिताब अपने किया है । भारत सरकार द्वारा गोल्ड मैडल से भी नवाजे गए है राहुल ।

यह भी है खूबियां – कलाकार व्यास वर्तमान में व्याख्याता के रूप में कार्यरत है इसके पहले दूरदर्शन दिल्ली से त्याग पत्र दे कर बच्चों को नई शिक्षा तथा नई सोच देने के लिए पुनः अपने नगर आ कर बच्चों को गाइड करते है। अक्षर गणेश कलाकृति को बना कर अक्षर गणेश कलाकार के नाम से भी है प्रसिद्ध किन्तु इसके अलावा वेक्स आर्ट, कंटेम्पररी आर्ट, मिनिएचर आर्ट, सैंड आर्ट तथा कई आर्ट बनाते है। व्यास एक कवि भी है भारत में कई जगह इन्होंने अपने वीर रस से देश भक्ति की अलख जगाई है तथा दो पुस्तक भी लिखी है, डांस इंडिया डांस सीजन 5 में भी अपनी प्रस्तुति दी कर दो राउंड क्लियर किये थे इसके साथ ही कई बड़े संस्थानों में मोटिवेशनल स्पीच दे कर मनोबल बढ़ाया है। 350 से ज्यादा विद्यार्थियों को बाल-वैज्ञानिक की उपाधि भी दिला चुके है।

कई सपने पूरे करने है – व्यास बताते है कि उनका सपना है कि वह भारत का नाम पूरी दुनिया में प्रसिद्ध करना चाहते है तथा साथ ही ऐसे व्यक्तियों को एकत्रित करेंगे जिन्हें रोजगार की सख्त आवश्यकता है और उन्हें प्रशिक्षित कर माटी के गणेश जी, प्राकृतिक फूलों से निर्मित होली का गुलाल, वर्ली आर्ट, मांडना तथा मंडाला जैसी लुप्त हो रहीं कला का प्रचार प्रसार करना ।

शासन से है उम्मीद – शासन से आस लगाए राहुल को पहले भी क्षेत्र के नेता ने कार्यक्रम में आने जाने के व्यय के खर्च निर्वहन का आश्वासन दिया था परंतु 2 वर्ष से भी अधिक हो गए है मदद नहीं मिल पाई है, मांडू उत्सव में क्षेत्रीय कलाकारों को मौका देने की बात प्रशासन ने कहीं थी परंतु अंतराष्ट्रीय स्तर के कलाकार को आमंत्रित नहीं किया गया । संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर से राहुल इस बारे में अवगत कराना चाहते है कि देश का नाम विदेशों तक ले जाने वाले कलाकारों को सहयोग प्रदान करें ।

परिवार तथा दोस्तो का सहयोग है पूरा – राहुल बताते है कि परिवार पूरा सहयोग करता है कई ऐसे मौके आए है जहाँ परिवार सहयोग कर कला का प्रचार प्रसार करवाते है, दोस्तो ने हर संभव सहयोग किया है एक मानसिक शक्ति प्रदान करते है । पतंजलि योग परिवार तथा विद्यार्थियों का सहयोग भी महत्वपूर्ण है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!