Home चेतक टाइम्स MP NEWS : मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा की, मजदूर...

MP NEWS : मुख्यमंत्री ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा की, मजदूर मजदूरी के लिए अन्य राज्यों में न जाएँ, गाँव में ही मिलेगा रोजगार, नहीं किया जाएगा लॉकडाउन

भोपाल।  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कुछ दिनों से प्रदेश में कोरोना के प्रकरण बढ़ रहे हैं। ऐसे में कोरोना संबंधी सभी सावधानियाँ बरती जाये। मास्क अनिवार्य रूप से लगाया जाए, फिजिकल डिस्टेंसिंग रखी जाए, हाथ बार-बार धोएँ, सोशल डिस्टेंसिंग रखें और थोड़े भी लक्षण होने पर तुरंत जाँच कराकर इलाज लें। थोड़ी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों के मजदूर मजदूरी के लिए अन्य राज्यों में न जाएँ, उन्हें मनरेगा के अंतर्गत गाँव में ही रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। आर्थिक गतिविधियाँ प्रभावित न हों, इसके लिए प्रदेश में लॉकडाउन नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों में कोरोना की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा आदि उपस्थित थे।

इंदौर, भोपाल, बैतूल में विशेष सावधानी रखें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि इंदौर, भोपाल, बैतूल, जबलपुर, छिंदवाड़ा आदि जिलों में कोरोना के प्रकरण बढ़ने से वहाँ विशेष सावधानी रखी जाए। इंदौर में 139, भोपाल में 70, बैतूल में 15, जबलपुर में 14 तथा छिंदवाड़ा में 9 नए प्रकरण आए हैं। इंदौर की पॉजिटिविटी रेट 6.6 प्रतिशत तथा भोपाल की 4.5 प्रतिशत है। कोरोना के प्रकरण बढ़ने पर पचमढ़ी, बैतूल, छिंदवाड़ा आदि में लगने वाले मेले स्थगित कर दिए गए हैं। साथ ही यहाँ सभी प्रकार की सावधानियाँ बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

गाँव में ही दिलवाये कार्य

बालाघाट, सिवनी, बैतूल आदि सीमावर्ती जिलों से मजदूर रोज महाराष्ट्र कार्य के लिए जाते हैं। मनरेगा में इन्हें गाँव में ही कार्य दिलाए जाने के निर्देश मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग प्रदेश की सीमा पर अनिवार्य रूप से की जाए। कोविड निगेटिव व्यक्तियों को ही प्रदेश में प्रवेश दिया जाएगा। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरणों की संख्या 2270 हो गई है। प्रदेश में कोरोना के नए 344 प्रकरण आए हैं, वहीं 223 मरीज ठीक हुए हैं। प्रदेश की पॉजिटिविटी रेट 2 प्रतिशत हो गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि कोरोना के लिए हर जिले के लिए बनाए गए वरिष्ठ प्रभारी अधिकारी सतर्क हो जाएँ। वे अपने प्रभार के जिलों की निरंतर मॉनीटरिंग करें और कोरोना से बचाव व उपचार की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करें।

जागरूकता फैलाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर्स अपने जिलों में कोरोना से बचाव के लिए जागरूकता अभियान चलाएँ। इसके अंतर्गत ‘रोको-टोको’ की रणनीति अपनाई जाए। प्रत्येक व्यक्ति मास्क लगाए तथा एक-दूसरे के बीच पर्याप्त दूरी का पालन करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर्स अपने जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में कोरोना नियंत्रण संबंधी निर्णय लें। किसी भी प्रकार का लॉकडाउन अथवा नाइट कर्फ्यू के संबंध में राज्य सरकार की अनुमति लेना आवश्यक है। अपर मुख्य सचिव श्री सुलेमान ने बताया कि भारत सरकार के नए निर्णय अनुसार 60 वर्ष से अधिक उम्र वालों को कोरोना वैक्सीन पहले लगायी जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!