Home चेतक टाइम्स अमझेरा - राजपुरा की बेटी धार में कोरोना वारियर्स के रूप में...

अमझेरा – राजपुरा की बेटी धार में कोरोना वारियर्स के रूप में कर रही मरीजों की सेवा, दो माह से अपने माता-पिता और बच्चों से नहीं मिल पाई, वीडियो कॉल से जान लेते है हालचाल

विक्रम सिंह राठौर, अमझेरा। अमझेरा संकुल के जनशिक्षक कैलाशचंद्र बघेल निवासी ग्राम राजपुरा की बेटी संगीता बघेल स्टाफ नर्स के पद पर कार्यरत होकर धार के भोज जिला चिकित्सालय में कोरोना संक्रमण काल के दौरान एक कोरोना वारियर्स के रूप में अपनी सेवाएं देते हुए मरीजों का उपचार कर रही है। ऐसे कोरोेना वॉरियर्स को देश सलाम करता है जो अपनी जान को जोखिम में डालकर दिन-रात मरीजों के इलाज और देखरेख मे लगे हुए है और आज ऐसे ही अनेकोअनेक स्वास्थ्यकर्मी कोरोना की जंग में अपनी अहम भूमिका निभा रहे है। संगीता बघेेल पिछले 13 वर्षो से स्वास्थ्य विभाग में  है जो धार में ही निवास करती है तथा इनके दो बच्चे किरण 13 वर्ष एवं गिरीराज 11 वर्ष है जिन्हे सुरक्षा और उचित देखरेख के लिए राजपुरा में अपने माता-पिता के पास छोड़ दिया है। जिन्हे वे पिछले दो महिनोे से मिल नहीं पाई है वहीं अपने माता-पिता एवं भाईयो से भी नहीं मिल पा रही है।

इधर उनके पिता कैलाशचंद्र व माता सावित्री बघेल  एवं भाई राजीव एवं संजय बघेल अपनी बहन की सलामती को लेकर दिन रात ईश्वर से प्रार्थना करते है कि वे उन्हे सुरक्षित और सलामत रखे और उसे शक्ति प्रदान करे तथा उन्हे अपनी बेटी व बहन पर गर्व भी है कि वो आज देश पर आये कोरोना संकंट को दुर करने के लिए वह एक योद्धा की तरह मैदान में डटकर सामना कर रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!