Home चेतक टाइम्स भोपाल - मुख्यमंत्री कमल नाथ ने झाबुआ में किया मुख्यमंत्री आवास मिशन...

भोपाल – मुख्यमंत्री कमल नाथ ने झाबुआ में किया मुख्यमंत्री आवास मिशन (शहरी) का शुभारंभ, हर आवासहीन को नि:शुल्क आवासीय पट्टा और मकान बनाने के लिए ढाई लाख अनुदान

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आज झाबुआ में मुख्यमंत्री आवास मिशन (शहरी) का शुभारंभ करते हुए कहा कि प्रदेश के प्रत्येक आवासहीन व्यक्ति को नि:शुल्क आवासीय पट्टा और मकान बनाने के लिए ढाई लाख रुपए अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश का प्रत्येक आवासहीन व्यक्ति अपने मकान का मालिक होगा। कार्यक्रम में 200 भूमिहीनों को आवासीय पट्टे दिये गये। श्री कमल नाथ ने कहा कि हम जल्द ही ऐसे मध्यप्रदेश का निर्माण करेंगे, जिसमें किसी भी व्यक्ति को अपनी समस्याओं का निराकरण कराने के लिये आवेदन देने की जरूरत नहीं पड़ेगी। समस्याओं का समाधान गाँव, पंचायत और जिले में ही हो जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में घोषणाओं की बजाय काम करने की संस्कृति का वातावरण निर्मित हो चुका है।

किसानों की आर्थिक स्थिति होगी मजबूत
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने प्रदेश में पिछले 15 साल बनाम 8 माह का उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने काम करने की नियत और नीति को अपनाया है। उन्होंने बताया कि तिजोरी खाली मिलने के बाद भी राज्य सरकार ने 19 लाख किसानों के फसल ऋण माफ किये हैं और आने वाले समय में 37 लाख किसानों के ऋण माफ किये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मक्का किसानों को 250 रुपए प्रति क्विंटल का बोनस दिया गया है। जिन किसानों ने अपना गेहूँ बेचा है, उन्हें 160 रुपए प्रति क्विंटल बोनस के भुगतान की शुरूआत की जा रही है। उन्होंने कहा कि वचन-पत्र को सामने रखकर हमने अपने काम की शुरूआत की है। गरीब कन्याओं के विवाह/निकाह के लिए दी जाने वाली राशि दोगुना कर उसे 51 हजार किया। बुजुर्गों और नि:शक्तजन की पेंशन 300 से बढ़ाकर 600 रुपए कर दी। श्री कमल नाथ ने कहा कि हम कृषि के क्षेत्र में ऐसी क्रान्ति लाने की शुरूआत कर रहे हैं, जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और वे हर तरह के कर्ज से मुक्त होंगे।

निवेशकों का मध्यप्रदेश में लौटा विश्वास
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि निवेशकों ने प्रदेश में उद्योग स्थापित करने में रूचि दिखायी है। राज्य सरकार निवेशकों का विश्वास कायम रखने के लिये हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि पिछले 15 साल में प्रदेश में बड़ी संख्या में उद्योग बंद हुए। अब ऐसा नहीं होगा। श्री कमल नाथ ने कहा कि नौजवानों को रोजगार दिलाने तथा प्रदेश के औद्योगिक विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। प्रदेश विकास का नया इतिहास बनायेगा। पर्यटन एवं नर्मदा घाटी विकास मंत्री श्री सुरेंद्र सिंह बघेल, जनसम्पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, किसान-कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री सचिन यादव, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह, पूर्व सांसद श्री कांतिलाल भूरिया और विधायक श्री वालसिंह मेढ़ा ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

30 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने इस मौके पर 30 करोड़ रूपये लागत के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने जय किसान फसल ऋण माफी योजना में 64 हजार 628 किसानों को 323 करोड़ 75 लाख रुपए के स्वीकृति पत्र और भुगतान के चेक प्रदान किए। जय किसान समृद्धि योजना में 3 हजार 491 किसानों को 2 करोड़ 86 लाख रुपए के भुगतान पत्र सौंपे। मुख्यमंत्री मध्यान्ह भोजन में भोजन बनाने वाले 1522 स्व-सहायता समूहों को 91 लाख 32 हजार रुपए के गैस कनेक्शन वितरित किए। आदिवासियों ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ को साफा बांधकर पारम्‍परिक आदिवासी झुलड़ी और तीर-कमान भेंट कर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री को झाबुआ की मुख्य फसल भुट्टे की टोकरी भी भेंट की गई

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!