Home अपना शहर राजगढ़ - ‘संस्कृति से सरोकार‘ के तहत न्यू टैलेंट स्कूल में मना...

राजगढ़ – ‘संस्कृति से सरोकार‘ के तहत न्यू टैलेंट स्कूल में मना श्रीकृष्ण जन्मोत्सव, नंद घर आनंद भयो से गूंज उठा विद्यालय परिसर

राजगढ़। न्यू टैलेंट पब्लिक हायर सेकंडरी स्कूल में श्री कृष्ण जन्माष्टमी से ठीक एक दिन पहले यानी गुरुवार को कृष्ण जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। नर्सरी से पहली कक्षा तक के नन्हें बच्चे राधा-कृष्ण के रूप में विद्यालय पहुंचे। सभी विद्यार्थियों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इसमें फैंसी ड्रेस, मटकी फोड़, मटकी सज्जा सहित चित्रकला स्पर्धा भी आयोजित की गई। इस दौरान भगवान श्रीकृष्ण की महाआरती भी विद्यालय में विद्यार्थियों और स्टॉफ ने की।
प्राचार्यद्वय विजयसिंह तोमर व गणेश पाटीदार ने बताया सुबह 10 बजे से विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन विद्यालय परिसर में किया गया। फैंसी ड्रेस में कक्षा पहली की शुभांगी चोयल प्रथम तो केजी-2 से अर्थव देवड़ा द्वितीय एवं राजवीर परदेसी तृतीय रहे। राधा बनकर विद्यालय पहुंची छात्राओं में केजी-2 की निलाक्षी भूरिया प्रथम, मनस्वी हरण द्वितीय एवं नर्सरी की तन्वी राठौर तीसरे स्थान पर रहीं। मटकी सज्जा में कक्षा 6ठीं से 8वीं में हर्षित कुमावत प्रथम, देविका परमार द्वितीय एवं मनीषा मारू तृतीय रहीं। मनीषा बैरागी को सांत्वना पुरस्कार मिला। 9वीं से 12वीं में सोनू परवार प्रथम, प्रज्ञा जैन एवं निकिता चौधरी द्वितीय एवं संस्तुति तोमर एवं मानस बोराना तीसरे स्थान पर रहे। तनीषा भाभर को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। मटकी फोड़ स्पर्धा 4थीं से 12वीं के विद्यार्थियों के बीच में अलग-अलग समूहों में हुई। विद्यालय के चारों हाउस (नटराज, तिलक, पृथ्वी और स्वस्तिक) के विद्यार्थियों ने प्रतियोगिताओं में सहभागिता कर शानदार प्रदर्षन किया। नर्सरी से 5वीं तक के विद्यार्थियों के लिए प्रतियोगिताएं कक्षावार हुई। दूसरीं से 5वीं तक के विद्यार्थियों के लिए ‘कृष्ण जन्मोत्सव‘ थीम पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें दोपहर 1 बजे बाद विद्यालय में मटकी फोड़ प्रतियोगिता हुई। इसमें बालकों सहित बालिकाओं ने भी पूरे उत्साह के साथ भागीदारी की। स्वस्तिक हाउस की बालिकाओं ने सबसे पहले मटकी फोड़ी।

…और गूंज उठा ‘नंद घर आनंद भयो…‘
प्रतियोगिताएं प्रारंभ होने से पहले 12 बजे भगवान की भव्य आरती विद्यालय परिसर में की गई। आरती के बाद विद्यालय परिसर ‘नंद घर आनंद भयो जय कन्हैयालाल की…‘ के जयघोष से गूंजित हो उठा। विद्यालय के छात्र संगठन पदाधिकारियों ने आकर्षक सजावट भी की। प्राचार्यद्वय ने बताया कि ‘संस्कृति से सरोकार‘ को ध्यान में रखते हुए विद्यालय में सभी धार्मिक व सामाजिक आयोजनों से विद्यार्थियों को प्रतियोगिताओं के माध्यम से समय-समय पर अवगत कराया जाता है। उन्होंने बताया कि इस शैक्षणिक सत्र में होने वाले सभी आयोजन ‘संस्कृति से सरोकार‘ के तहत ही आयोजित हो रहे हैं। विद्यालय प्रतिवर्ष इस तरह से थीम तैयार करता है ताकि विद्यार्थी संस्कृति, समाज और सामाजिक गतिविधियों से आंतरिक रूप से जुड़ सके।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!