राजगढ़। नगर की मेन चौपाटी से पुराना बस स्टैंड तक प्रशासन द्वारा बनाए गए कंटेनमेंट जोन को हटाने की मांग को लेकर मंगलवार शाम को विधायक प्रताप ग्रेवाल एवं व्यापारी पर धरने पर बैठे गए। करीब आधे घंटे चले इस धरने के दौरान व्यापारियों द्वारा जमकर नारेबाजी भी की गई। इस दौरान विधायक ग्रेवाल द्वारा कहा गया कि प्रशासन द्वारा कंटेनमेंट जोन को लेकर दोहरी नीति अपनाई जा रही है। जवाहर मार्ग में केवल दो लोग संक्रमित होने के कारण पूरा बाजार बंद करा दिया गया ऐसे में व्यापारियों को आर्थिक नुकसान हो रहा है दूसरी और लोगों को आवाजाही में परेशानी हो रही है। देखा जाए तो कंटेनमेंट जोन को लेकर इस प्रकार की कार्रवाई जिले में अन्य स्थानों पर कहीं नहीं की जा रही है। यदि प्रशासन को कार्रवाई की जाना चाहिए तो सभी स्थानों पर एक जैसी कार्रवाई की जाना चाहिए। धरने के दौरान व्यापारियों द्वारा मांग की गई कि जवाहर मार्ग निवासी संक्रमित ओके घर को सील किया जाए जबकि अन्य स्थान को कंटेनमेंट जोन से मुक्त किया जाए ताकि व्यापारी आसानी से व्यापार व्यवसाय कर सकें। धरने के करीब आधे घंटे बाद मौके पर तहसीलदार प्रेम नारायण परमार, सीबीएमओ शीला मुजाल्दा, डॉक्टर नितिन जोशी मौके पर पहुंचे। इस दौरान तहसीलदार श्री परमार द्वारा उन्हें समझाइश देकर धरना समाप्त कराया गया एवं व्यापारियों एवं विधायक ग्रेवाल द्वारा मांग को लेकर ज्ञापन भी दिया गया। इस दौरान नगर परिषद अध्यक्ष भंवर सिंह बारोड़, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष रघुनंदन शर्मा, मनीष माहेश्वरी सहित व्यापारीगण एवं कांग्रेसी कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

Post a comment

 
Top