सारंगी। जिले में लगातार कोरोना के मामले बढ़ने के बाद भी कई लोग लापरवाही बरत रहे हैं। व्यापारी भी बिना मास्क के निडर होकर अपना व्यापार कर रहे हैं। बस स्टैंड की स्थिति तो यह है कि एक साथ कई बस आने के बाद यात्रियों की भीड़ लग जाती है। सामाजिक दूरी का पालन नहीं हो पाता है। कई यात्री तो बिना मास्क के ही बस में सफर करते हैं। साथ ही बस के चालक एवं परिचालक भी मास्क नही लगाते हैं। बेपरवाह लोग संक्रमित हो जाते हैं तो भी वह भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में बिना मास्क के ही घूमते रहते हैं ऐसे में स्वयं खतरे से खेलते हैं साथ ही अपने परिवार को भी खतरे में डाल देते हैं। कोरोना वैक्सीन आ चुकी है जो 60 वर्ष के लोगों को लगना भी प्रारंभ हो गई है। चिकित्सकों का कहना है कि वैक्सीन लगने के बाद भी सावधानी जरूरी है। ऐसा कोई दिन नहीं जा रहा है कि जिले में कोरोना संक्रमण के मामले ना आ रहे। हो ऐसे मौसम में भी सभी को स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहने की आवश्यकता है घर से निकलते ही मास्क का उपयोग जरूरी रूप से करना चाहिए। अगर सावधानी रखी गई तो संक्रमण हावी नहीं होगा। आम लोग मास्क पहने के साथ ही सावधानी बरतने की अपील कर रहे हैं। 

लापरवाही से फैलता है कोरोना का संक्रमण - नागरिक रजनीश पाटीदार का कहना है कि सावधानी अगर रखी जाए तो संक्रमण हावी नहीं होगा। लेकिन कई लोग लापरवाही बरत रहे हैं ऐसे में यह संक्रमित हो जाते हैं स्वयं तो संक्रमित हो रहे हैं साथ ही अपने परिवार को भी खतरे में डाल रहे हैं। सभी को चाहिए कि सावधानी बरतें।  घर से निकलते ही मास्क का उपयोग जरूरी रूप से करें। नागरिक राजेश मेड़तवाल का कहना है कि मास्क के साथ ही सामाजिक दूरी का पालन होना भी जरूरी है क्योंकि सारीरिक दूरी के पालन से संक्रमण एक दूसरे में नहीं जाता है। नगर पत्रकार संघ सारंगी ने नगर के लोगों से अपील की हे कि शासन की गाइडलाइन का पालन करें। शासन को सहयोग करें। बिना मास्क के बाजारों में नहीं घूमे एवं लोगों से दूरी बनाए रखें। 

Post a comment

 
Top