सरदारपुर। मनरेगा घोटाले में सरपंच/प्रधानों पर हुई एफआईआर को समाप्त करने हेतु आज मध्यप्रदेश सरपंच संघ ने एसडीएम एवं एसडीओपी के नाम ज्ञापन सौंपा। वहीं सरपंच संघ जनपद सीईओ को ज्ञापन देने पहुंचे। काफी देर इंतजार करने के बाद भी सीईओ ज्ञापन लेने नही पहुंचे तो नाराज सरंपच नारेबाजी करते हुए जनपद परिसर से बाहर आ गए। सरपंच संघ ने ज्ञापन में बताया की ग्राम पंचायत बिछीया के प्रधान कैलाश भुरिया, श्यामपुरा ठाकुर प्रधान कृष्णाबाई गामड़, भानगढ़ प्रधान विष्णुबाई मेड़ा तथा बिमरोड़ प्रधान संतुबाई पर बिना जांच किए पुलिस प्रकरण दर्ज किया गया है। जो कि नियम के विरूद्ध है तथा जनपद पंचायत के जिम्मेदार अधिकारी, कर्मचारी व ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उपसंभाग सरदारपुर के जिम्मेदार अधिकारी दोषी है। इनके खिलाफ कार्यवाही की जाए। ज्ञापन सौंपकर सरपंच संघ ने निष्पक्ष जांच कर सरपंच/प्रधानो पर कि गई एफआईआर समाप्त करने की मांग की है। इस दौरान सरपंच संघ अध्यक्ष मयाराम मेड़ा, कानालाल निनामा, लक्ष्मण खराड़ी, भारत सिंगार, सुनील गामड़, हरिराम पटेल, विजय बोड़िया, बाबुलाल भूरिया आदी मौजुद रहें। 

Post a comment

 
Top