सरदारपुर। विधानसभा क्षेत्र आदिवासी बाहुल्य होने एवं सिंचाई के ज्यादा स्त्रोत नही होने से प्रतिवर्ष हजारो की संख्या मे गुजरात एवं अन्य राज्यो मे मजदूर पलायन कर जाते है जिसको ध्यान मे रखते हुए विधायक प्रताप ग्रेवाल द्वारा सरदारपुर सहित 7 विधानसभा क्षेत्र के लिए प्रस्तावित की गई माण्डू उद्वहन सिंचाई योजना की स्वीकृति के लिए मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र मे याचिका प्रस्तुत की। प्रस्तुत याचिका को विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम द्वारा 15 मार्च 2021 को सदन मे सर्वानुमति से स्वीकृत प्रदान की गई। माण्डू उद्वहन सिंचाई योजना मे सरदारपुर तहसील के 20 ग्रामो की 36 हजार हैक्टेयर भूमि सहित 7 तहसील की कुल लगभग 01.50 लाख हैक्टेयर भूमि सिंचित होगी। सरदारपुर तहसील मे किसानो की आर्थिक स्थिति मे सुधार लाने एवं पलायन पर रोक लगाने के उद्देश्य से विधायक प्रताप ग्रेवाल द्वारा ही पूर्व मे दिनांक 28 दिसंबर 2019 को पत्र क्रमांक 1384/2019 के अनुसार तत्कालीन नर्मदा घाटी विकास मंत्री सुरेन्द्रसिंह बघेल को पत्र सौंपकर माण्डू उद्वहन सिंचाई योजना मे सरदारपुर तहसील के ग्रामो को शामिल करने की मांग की थी। जिसके फलस्वरूप सरदारपुर तहसील के 20 ग्रामो को योजना मे शामिल किया गया था एवं डीपीआर तैयार कर भोपाल कार्यालय मे योजना प्रस्तावित की गई थी। योजना में ग्राम गुमानपुरा, बिमरोड, छडावद, पिपरनी, सेमल्या, केरिया, करनावद, सियावद, धुलेट, अमोदिया, सोनगढ, महापुरा, टिमायची, भानगढ, नरसिंह देवला, एहमद, बोला, पसावदा, नयापुरा आदि गाँव शामिल किए गए है। 

Post a comment

 
Top