रिंगनोद। समीप ग्राम गुमानपुरा से सोमवार को क्षेत्र का भंगोरिया हाट का आगाज़ हुआ। भंगोरिया को लेकर अंचल के आदिवासी समाज में काफी उत्साह देख गया। प्रातः से ही गुमानपुरा से लगे आसपस के एक दर्जन से अधिक गांव के आदिवासियों का अपनी पारंपरिक वेशभूषा में भंगोरिया स्थल पर आवाजाही प्रारंभ हो गई थी। इस अवसर पर झूले-चकरी सहीत मिठाई, ठंडाई, पान, कटलरी सामान सहीत अन्य दुकाने लगी थी। दोपहर बाद विभिन्न गांवो से आए मांदल दल अपनी-अपनी प्रस्तुतीयां देने लगे थे। मांदल की थाप पर आदिवासी युवक एवं युवतियां जमकर थिरके। हालांकी कोरोना महामारी को देखते हुए इस बार कम संख्या में मांदल दल पहुंचे थे। ग्राम पंचायत की और से सरपंच भारत सिंगार, कमलसिंह राठौर, रतन पटेल, रोजगार सहायक राजेश पंवार आदी  द्वारा भंगोरिया में आए 8 मांदल दलों साफा बांधकर सम्मान किया गया। ग्राम पंचायत की और से पीने के पानी की भी व्यवस्था की गई थी। वहीं रिंगनोद पुलिस चौकी प्रभारी राहुल चौहान पुलिस बल के साथ तैनात रहें।

Post a comment

 
Top