राजोद। नगर के सदर बाजार में स्थित जैन मंदिर में बीती रात्रि अज्ञात बदमाशों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया। जिसकी सुचना फ़रियाद राहुल पिता अशोक कुमार जैन ने पुलिस को दी। फरियादी ने समाज जन को बताया कि मंदिर में चोरी हो गई है, जिसकी सुचना सुबह पुलिस को दी। पुलिस द्वारा मोके पर जाकर च घटना स्थल का मौका देखा गया। जिसके बाद पुलिस द्वारा उच्च अधिकारी को सुचना देकर डॉग स्क्वायड एवं एफएसएल टीम ने घटना स्थल का जायजा लिया। घटना के बाद से पुलिस द्वारा नगर के मार्गों पर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है। फरियादी राहुल द्वारा दर्ज करवाई गई रिपोर्ट में बताया कि अपने समाज जन राकेश पिता इंदरमल जैन व शैलेश पिता कांतिलाल जैन ने बताया गया कि हम मंदिर की पूजा करने गए तब मंदिर का ताला व दरवाजा खुला पड़ा देखकर हमने अन्य समाज जनों को बुलाकर बताया और पुलिस को सूचना दी। मंदिर के अंदर सामान बिखरा हुआ पढ़ा था। तीन लटकन वाले चांदी के बड़े छात्र चार सेट, परिकर वाली मूर्ति अष्ट धातु की एक, अष्ट धातु के सिद्धचक्रजी एक, अष्टधातु के विषस्थानक (गद्दाजी) की प्रतिमा  एक तथा भगवान सिद्धचक्रजी की चांदी की मुर्ती एक जिनके नीचे नाम लिखा है वजन करीब 500 ग्राम, मूलनायक भगवानजी का चांदी का मुकुट एक कुंडल दो, मूलनायकजी भगवान के नीचे रखी प्रसाददेवी चांदी की 1 चेन  तथा दरवाजे के चांदी के तोरण तीन नग एक बड़ा तथा दो छोटे, चांदी का नारियल वाला तोरण एक नग, नाकोड़ा भेरुजी की चांदी की चेन एक नग आदि आभुषण एवं मंदिर में रखी दान पैंटी से नगदी व चिल्लर करीबन पैंतालीस हजार रुपए बदमाश चुराकर ले गये। राजोद पुलिस ने फरियादी की रिपोर्ट पर धारा 457, 380 भादवि में प्रकरण दर्ज  कर जांच में जुट गई हैं।

Post a comment

 
Top