राजगढ़। एनएसयूआई द्वारा आज कुलपति के नाम श्री राजेन्द्र सूरी शासकीय महाविद्यालय सरदारपुर-राजगढ़ के प्राचार्य एलएस अलावा को ज्ञापन सौंपकर स्नातक के विद्यार्थियों की परीक्षाएं ओपन बुक पद्धती से करावाए जाने की मांग की गई। एनएसयूआई द्वारा सौंपे गए ज्ञापन में बताया कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण का प्रभाव दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। इसके बावजूद उच्चशिक्षा विभाग एवं देवी अहिल्या विश्व विद्यालय इंदौर द्वारा विद्यार्थियों के साथ भेदभाव किया जा रहा है, क्येंकि स्नोतकोत्तर के विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन दिया गया है, वही दुसरी और स्नातक के विद्यार्थीयो के परीक्षा का टाईम टेबल घोषित कर दिया गया है। जो की वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए न्यायोचित नही है तथा कोरोना काल में 9 माह तक काॅलेज बंद रहें। जनवरी के 2021 बाद नियमित कक्षा शुरू हुई जिसमें विद्यार्थीयों की पढ़ाई भी पुरी नही हो पाई एवं ऑनलाईन कक्षाओं का भी विशेष परिणाम नही मिला है और स्नातक के विद्यार्थीयो की परीक्षा का टाईम टेबल घोषित कर दिया गया है। स्नातक के विद्यार्थियों की परिक्षा करवाना उनके स्वास्थ्य से खिलवाड़ होगा। ज्ञापन सौंपकर एनएसयूआई द्वारा मांग की गई कि स्नातक के विद्यार्थियों की परीक्षाएं ओपनबुक प्रणाली से करवाई जाए। इस दौरान एनएसयूआई विधानसभा अध्यक्ष मोहित जाट, वीरेंद्र सिंह सोलंकी, चेतन जाट, तिलकसिंह बरोड़, शुभम प्रजापत, आरती सोलंकी ,स्नेहा जाट, सलोनी जाट,  बुलबुल जाट, ज्योतिबला, प्रदीप जाट, अभिषेक जाट, विक्की यादव, दिव्या, पूजा, राहुल डाबी, कविता, सुनील, सीमा राठौड़, ज्योति कुमावत, विशाल परमार, हिमांशी सहित बड़ी संख्या में छात्र-छात्राए उपस्थित रहे। 

Post a comment

 
Top