राजगढ़। नेहरू युवा केंद्र धार युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा जिला युवा अधिकारी स्वप्निल देशमुख के मार्गदर्शन में स्वच्छ गांव हरा गांव, पर्यावरण संरक्षण, कैच द रेन, वाटर हार्वेस्टिंग विषय एवं विश्व जल दिवस पर एक दिवसीय कार्यशाला कर प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्वलित एवं माल्यार्पण कर किया गया। जिसके बाद कार्यक्रम के अतिथि नगर परिषद सीएमओ देवाबाला पीपलोनिया, श्री राजेंद्र सूरी शासकीय महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. आईएस डावर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग खंड समन्वयक अधिकारी बाबूलाल परवार, शासकिय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य नारायण काग एवं श्री सिद्धि विनायक वेस्ट मैनेजमेंट टीम से किरण गहलोत थी।

कार्यक्रम में नगर परिषद सीएमओ ने बताया कि स्वच्छता हमारे जीवन में बहुत ही जरूरी है व हम नगर परिषद द्वारा भी घर-घर जाकर कचरा  संग्रहण कर रिसायकल बिन किया जा रहा है व उसका खाद बनाने का कार्य किया जा रहा है। स्वच्छता में युवाओं को अपना योगदान देना चाहिए। वही डॉ. आईएस डावर ने कहा कि पर्यावरण से हम सभी स्वच्छ एवं समृद्ध रह सकते हैं आधुनिक काल से ही यही परंपरा रही है की हरे भरे जंगलों से हमें ऑक्सीजन और शुद्ध हवा मिलती है और हमें पेड़ों को बचाना चाहिए। वही पीएचई विभाग के  बाबूलाल परवार ने जल के पीएच मान आज के समय में जल को कैसे बचाया जा सकता है व "कैच द रेन" के बारे में बताया। वही प्रभारी प्राचार्य द्वारा वाटर हार्वेस्टिंग के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि हमारे स्कूल में भी लगाया गया है और अब नए घरों में वाटर हार्वेस्टिंग कर बारिश के पानी धरती में उतारा जा सके उसे अनिवार्य कर दिया है। किरण गहलोत द्वारा स्वच्छता के बारे में जानकारी देते हुए स्वच्छ्ता में राजगढ़ को नम्बद वन बनाने की अपील की गई। कार्यक्रम में स्कूल का समस्त स्टाफ एवं 100 से अधिक युवाओं ने भाग लिया था।  कार्यक्रम का संचालन कमलेश चौहान ने किया। नेहरू युवा केंद्र से किरण भूरिया, कृष्णा चौहान, रोहित परवार आदि का विशेष सहयोग रहा।  आभार ब्लॉक प्रभारी राहुल सिंदल ने व्यक्त किया।

Post a comment

 
Top