राजगढ़। महाविद्यालय के विद्यार्थियों की परिक्षा ओपन बुक प्रणाली से कराए जाने की माँग को लेकर युवक कांग्रेस अध्यक्ष, एनएसयूआई पदाधिकारी सहीत महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं महाविद्यालय के बाहर ओल्ड हाइवे पर धरने पर बैठ गए तथा मार्ग पर चक्काजाम कर दिया। पुरे मामले की जानकारी लगते ही सरदारपुर विधायक प्रताप ग्रेवाल तथा एसडीएम बीएस कलेश महाविद्यालय पहुंचे तथा छात्र-छात्राओं को समझाइश दी। जिसके बाद विद्यार्थीयों ने धरना समाप्त किया। दरअसल दोपहर लगभग 12 बजे विधानसभा युथ कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश चौधरी, एनएसयूआई अध्यक्ष मोहित जाट सहीत बड़ी संख्या में श्री राजेन्द्र सूरी शासकीय महाविद्यालय के बाहर ओल्ड हाइवे पर धरना देते हुए हाईवे पर बैठ गए तथा मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान तथा उच्च शिक्षा मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। इस दौरान काफी देर तक मार्ग जाम हो गया एवं दोनो तरफ वाहनो की कतार लग गई। मामले की जानकारी मिलते ही विधायक प्रताप ग्रेवाल एवं एसडीएम बीएस कलेश महाविद्यालय पहुंचे एवं काफी देर तक समझाइश के बाद विद्यार्थी माने एवं ज्ञापन के बाद धराना समाप्त किया। 

एसडीएम को सौंपा ज्ञापन - विद्यार्थी अपनी मांगो को लेकर अचानक सड़क पर बैठ गए। यह देख महाविद्यालय का पूरा स्टाॅफ भी बाहर आ गया था। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस बल मौके पर पहुंचा। इस दौरान विद्यार्थीयों ने केवल उन्ही वाहनों को निकलने दिया जिसमें मरीज थे। विद्यार्थियों ने विधायक, एसडीएम तथा महाविद्यालय के प्राचार्य को एक ज्ञापन सौंपा जिसमें उन्हों बतया कि कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसके बावजूद उच्च शिक्षा विभाग एवं देवी अहिल्या विश्व विद्यालय इंदौर द्वारा विद्यार्थियों के साथ भेदभाव किया जा रहा है। ज्ञापन में बताया की कोरोना काल में 9 माह तक काॅलेज बंद रहें एवं जनवरी बाद नियमित कक्षा शुरू हुई। जिससे विद्यार्थीयों की पढ़ाई पुरी नही हुई और विश्व विद्यालय ने स्नातक के विद्यार्थियों का टाईम टेबल घोषित कर दिया गया। वर्तमान में कोरोना महामारी बढ़ती जा रही है। ऐसे में परीक्षा करवाना विद्यार्थियों के स्वास्थ्य के खिलवाड़ होगा। ज्ञापन में विद्यार्थियों ने स्नातक के विद्यार्थियों की परिक्षाएं ओपन बुक प्रणाली से करवाए जाने की मांग रखी गई। ज्ञापन का वाचन तिलक बारोड़ ने किया। इस दौरान युथ कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश चौधरी, एनएसयूआई विधानसभा अध्यक्ष मोहित जाट, उपाध्यक्ष धीरज पाटीदार, चेतन जाट, वीरेंद्र सोलंकी, कमल मारू, विशाल, अभिषेक जाट, शुभम कपुरवाल, दिव्या पुरोहित, सीमा राठौर, दुर्गा देवड़ा, दिव्यांशी, उर्मीला जाट, रितु जाट, शाकु, शिवानी, दिया, बुलबुल, मनीषा आदी छात्र-छात्राएं मौजुद थे। 

Post a comment

 
Top