अमझेरा। अमझेरा में आयोजित अखिल भारतीय सुंदरकांड पाठ प्रतियोगिता में राजस्थान, गुजरात सहीत मध्यप्रदेश के 10 चुनिंदा सुंदरकांड मंडलो ने भाग लिया। वहीं तारखेड़ी मंडल एवं अमझेरा मंडल के द्वारा विशेष प्रस्तुती दी गई। आयोजन शुक्रवार 5 मार्च की रात्री में प्रारंभ होकर शनिवार 6 मार्च की अलसुबह तक चला। जिसके बाद विजेता मंडलो कोे पुरूस्कार प्रदान किया गया। प्रतिभागी सभी मंडलो नेे एक सेे बढ़कर एक विभिन्न भजनो की धुनो एवं गीतो पर दौहेे और चोपाईयों को सुरो की माला में पिरोेया जिसने उपस्थित श्रोेताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। प्रतियोगिता में 21 हजार रूपये का प्रथम पुरूस्कार पूर्व विधायक वेलसिंह भूरिया के द्वारा प्रदत्त राजस्थान के श्री पनघट बालाजी सुंदरकांड मंडल कोटड़ी को मिला वहीं दुसरा पुरूस्कार 15 हजार रूपये का स्व. बुदीबाई राठौड़ की स्मृति में सांईराज मोटर्स अमझेरा द्वारा प्रदत्त श्री खेड़ापति सुंदरकांड मंडल शाजापुर एवं तृतीय पुरूस्कार 11 हजार रू. स्व.प्रहलादसिंह परिहार की स्मृति में भगवानसिंह परिहार द्वारा प्रदत्त राजस्थान के सांकेत रामायण मण्डल भीलवाड़ा को गुजरात जुना राजपिपला से पधारे महंत श्री घनश्यामदासजी महाराज की उपस्थिति में प्रदान किया गया।  

अन्य मंडल संस्कृति संवर्धन मंडल चुपना राजस्थान, श्री मारूती सुंदरकांड मंडल रतलाम, चारभुजा सुंदरकांड महिला मंडल बड़ौदा गुजरात, भक्त रामायण मण्डल महेश्वर, कपिराज सुंदरकांड मंडल लिमखेड़ा गुजरात, श्री पंचेश्वर रामायण मण्डल अलीराजपुर एवं श्री सिद्धेश्वर रामायण मंडल काकनवाणी को सांत्वना पुरूस्कार केे रूप में 5100 रूपये प्रदान किये गये। साथ ही सभी मंडलो को नगर के समाजसेवीयों के द्वारा प्रतिक चिन्ह भी  भेंट किये गये। निर्णायक मंडल के देशराज वशिष्ठ, जनक रामायणी, प्रदीपसिंह पंवार एवं मुकेश पंडित के द्वारा प्रतियोगिता का निर्णय दिया गया। 

कार्यक्रम के दौरान श्रद्धालुओं को भोजन एवं स्वल्पाहार, चाय आदी की निशुल्क व्यवस्था प्रदान की गई। आयोजन क्षेत्र की समस्त धर्मप्रेमी जनता के साथ श्रीरामचरित मानस मण्डल एवं पवनपुत्र सुंदरकांड मंडल अमझेरा के संयोजन में किया गया। हिन्दु चेतना मंच सहीत पवनपुत्र सुंदरकांड मंडल एवं ग्राम के युवाओं ने कार्यक्रम की व्यवस्था को अंत तक बनाये रखा। कार्यक्रम का संचालन अभिजित पंडित ने किया। वही आभार निलांबर शर्मा एवं अजय शर्मा ने व्यक्त किया।

Post a comment

 
Top