सारंगी। माही जल संस्था सारंगी ओर बोडायता के किसानो ने माही विभाग के दोनों सबडिवीजन के एसडीओ जामोद और कुरेशी को मौके पर बुलाकर सुख रही खड़ी फसल को बताया और नहर को चालू करवाने की मांग की। किसानों की मांग है कि सारंगी क्षेत्र में माही नहर का पानी 15 दिन बाद छोड़ा गया और अब नहर को बंद कर दिया जिससे किसानों की फसल सुख रही है किसान लगभग आठ दिनों से  एसडीओ कुरेशी से फ़ोन पर बात कर नहर चालू करवाने का आग्रह कर रहे थे परंतु माही के एसडीओ ओर इंजीनियर ने बात नहीं सुनी तो उनकी सूखती फसल नही देखी गयी तो उन्होंने मोहनपुरा फाटे पर एकत्रित होकर एसडीओ को मौके पर बुलाने की जिद पर अड़ गए। माही संस्था के अध्यक्ष अग्निनारायन सिंह अधिकारियों की हठधर्मिता और किसानों के साथ हो रहे भेदभाव पर एसडीओ पर जमकर बरसे ओर खरी खोटी सुनाई। एसडीओ जामोद ओर कुरेशी ने अपनी गलती स्वीकार की और लोगो को दो दिन में नहर छोड़ने का आश्वासन दिया। कुछ किसान मोके पर ही धरना देकर तत्काल नहर छुड़ाने की मांग करने पर अड़े गए परंतु माही संस्था के अध्यक्ष द्वारा किसानों को समझाकर अधिकारियों की बात सुन उनके आश्वासन पर दो दिन और देखने की बात कहीं ओर कहा कि यदि अधिकारी के दिये आश्वासन पर नहर चालू नही होती है तो दो दिनों बाद सारंगी ओर बोडायता क्षेत्र के किसानों द्वारा मुख्य हाईवे पर चक्काजाम किया जाएगा जिसकी समस्त जवाबदारी प्रशासन की रहेगी। इस दौरान माही संस्था के अध्यक्ष अग्निनारायान सिंह, जनपद सदस्य योगेंद्र सिंह, माही संस्था के समस्त मेंबर और क्षेत्र के किसान कांग्रेस, बीजेपी के नेता जनपद सदस्य, सरपंच आदि उपस्थित थे।

Post a comment

 
Top