सरदारपुर। झाबुआ जिले की बालिका के साथ हुई अमानवीय घटना को लेकर जनजाति विकास मंच तहसील सरदारपुर द्वारा राष्ट्रपति के नाम एसडीएम बीएस कलेश को ज्ञापन दिया गया।  ज्ञापन मे बताया की झाबुआ जिले की मेघनगर जनपद पंचायत के ग्राम नोगावा खराड़ी फलिया के निवासी एक मजदूर जो कि मजदुरी के लिए गुजरात के मोरबी जिले के मकनसर गांव में स्थित पडासिर्मिक कारखाने में मजदुरी करने के लिए परिवार सहित गया था। जहां पर उसके साथ उसकी सात वर्षीय नाबालिक बच्ची भी थी। घटना दिनांक 18 जनवरी शाम के समय सात वर्षीय बालिका का अपरहण कर बालिका के साथ दुष्कर्म जैसी घटना करने के पश्चात उसकी निर्मम हत्या की गई। कारखाने में काम करने वाला झारखण्ड निवासी दुर्गाचरण उर्फ टार्जन नाम के व्यक्ति दोषी आरोपी के विरुद्ध जल्द सख्त से सख्त कार्यवाही की जाना चाहिए। जनजाति विकास मंच द्वारा मांग की गई की इस दर्दनाक घटना को अंजाम देने वाले दोषी को फांसी की सजा दी जाना चाहिए। इस दौरान गोविन्द वडखिया, सुमित अमलियार, पप्पू भुरिया, कमलेश चौहान, अनिल पंचौली, कालु मेड़ा, रामु भुरिया, रमेश सारेल, पानसिह मावी, प्रवीण भुरिया, योगेश मखोड, अमबाराम खराड़ी, राहुल बबेरीया, रेमसिह डोडवा आदि मोजूद रहे। उक्त जानकारी तहसील मिडिया प्रमुख उमेश भाबर ने दी।

Post a comment

 
Top