सरदारपुर। अंचल में पिछले दिनों से मौसम का रूख परिवर्तन हो रहा था एवं आसमान में बादल छा रहें थे। इसी बिच आज यकायक दोपहर 1 बजे के बाद मौसम ने अचानक करवट बदल ली। आसमान में बादलों की गड़गड़ाहट के साथ बिजली चमकने लगी तथा तेज बारिश शुरू हो गई। तेज बारिश के साथ ही ओलावृष्टी होने लगी। अंचल के राजगढ़ एवं सरदारपुर में लगभग एक घंटे तक ओलावृष्टी के साथ तेज बारिश हुई। सड़को पर ओलो की चादर बिछ गई। अंचल में ओलावृष्टी एवं तेज बारिश से गेंहू, चना सहीत अन्य फसलों को भारी हुआ है। कई जगह गेहूं की फसल कटाई में भी बारिश की वजह से खलल पड़ा है। ओलावृष्टी से फसलों को हुए भारी नुकसान से किसान चिंतीत है। वहीं मौसम का मिजाज भी बदल गया है। 

विधायक ग्रेवाल ने एसडीएम को लिखा पत्र - 

क्षेत्र में आई प्राकृतिक आपदा के बाद विधायक प्रताप ग्रेवाल ने सर्वे हेतु एसडीएम को पत्र लिखा है। विधायक कार्यालय के विष्णु चौधरी ने बताया की  प्राकृतिक आपदा (ओले गिरने) से गैहु, चना, प्याज, अदरक, लहसून आदि रबी की तैयार फसल खराब (नष्ट) होने पर क्षेत्रीय विधायक प्रताप ग्रेवाल द्वारा किसानो के हित मे सरदारपुर अनुविभागीय अधिकारी बीएस कलेश को पत्र लिखकर नष्ट रबी फसलो का शीघ्र ही उचित सर्वे कर आर.बी.सी. 6-4 के तहत किसानो को नष्ट फसलो का उचित मुआवजा एवं फसल बीमा प्रदान करने की मांग की गई। 

Post a comment

 
Top