राजगढ़। 12 फरवरी को अयोध्यापुरम से पालीताणा तीर्थ तक आयोजित होने वाले छरि पालक पैदल संघ में शामिल होने के लिए आचार्यश्री ऋषभचंद्रसूरिश्वरजी के शिष्य मुनिश्री पीयूषचंद्र विजयजी ने महाराष्ट्र के डाहाणु से विहार प्रारंभ कर दिया हैं। पालीताणा में 18 को संघ माला के बाद वे पुनः पालीताणा तीर्थ से विहार कर मुंबई के समीप डाहाणु रोड़ स्थित श्री ’मोहनखेडा गुरू धाम तीर्थ पर पहुंचेंगे। यहां अक्षय तृतीया के अवसर पर 15 मई को मुनिश्री के वर्षीतप का पारणा होगा। स्मरणीय है कि हाल ही में गुरूधाम तीर्थ पर मुनिश्री की निश्रा में गुरूसप्तमी महोत्सव का आयोजन हुआ हैं। उक्त जानकारी पत्रकार दीपक जैन ने दी।

Post a comment

 
Top