सरदारपुर। जनपद पंचायत सरदारपुर के सभागृह मे बुधवार को जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी शैलेन्द्र शर्मा ने  समीक्षा बैठक लेकर कार्यो  की समीक्षा की। बैठक मे उपस्थित पंचायत सचिवो से शासकीय कार्यो की जानकारी लेकर उनकी समीक्षा की। सीईओ शर्मा ने जिन पंचायतो मे कार्यो  की प्रगति अपेक्षा के अनुरूप नही पाई गई संबधित सचिवो की मौके पर ही खिचाई  कर कार्यो मे प्रगति लाने के निर्देश दिये। वही शासन की जनकल्याणकारी योजनाओ के क्रियान्वयन मे रूचि नही दिखाने तथा कार्य प्रगति शुन्य मिलने वाले सचिवो को नोटिस भी जारी किये गये।

बैठक मे एसडीएम विजय राय भी उपस्थित रहे। उन्होने उपस्थित सचिवो को निर्देश देते हुये कहा की जो भी कार्य है उन्हे समय सीमा मे पुर्ण किया जाये। किसी भी प्रकार की लेट-लतीफी नही चलेगी। वही जिन पंचायतो मे सामुहीक शौचालयो को निर्माण हो रहो है उन्हे 31 अक्टूबर तक पुर्ण करने के निर्देश दिये गये। एसडीएम विजय राय जनपद सीईओ को कहा की जो भी पंचायत सचिव समय सीमा मे कार्य पूर्ण नही करवाता है उसे नोटिस जारी कर उसके खिलाफ उचित कार्यवाही की जाये। शासन की और से निर्देश मिले की दिसबंर 2020 तक लैबर बजट को पुर्ण करना है। सरदारपुर तहसील मे करीब 24 लाख का लैबर बजट हैै जिसे दो माह मे पुर्ण करना है। इसी को लेकर समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया था।

सीईओ शैलेन्द्र शर्मा ने बताया की मनरेगा योजना के तहत प्रतिदिन 20 हजार मजदुरो को रोजगार उपलब्ध करवाना है। वर्तमान मे विभीन्न पंचायतो मे करीब 3 हजार रोजगार मुलक कार्य चल रहे है।  वही  अकोलिया, अमोदिया, श्यामपुरा, दत्तीगांव, सेमलिया, भरावदा, फुटतालाब मे कहने के बाद भी जीरो लैबर मिलने पर सचिवो को कारण बताओ नोटिस एंव सहायक सचिवो को सेवा समाप्ती के नोटीस जारी किये गये। साथ ही बैठक मे बिना सुचना दिये अनुपस्थित रहने वाले सचिवो को नोटिस जारी तीन दिवस मे जवाब मांगा गया। वही उपयंत्रीयो को निर्देश दिये गये की जो कार्य पूर्ण हो चुके है उनकी सीसी जारी करे। बैठक मे आरईएस एसडीओ निर्मल पाटिदार भी उपस्थित थे।

Post a comment

 
Top