राहुल राठौर, राजोद। बदनावर तहसील के ग्राम रेशमगारा में  असामाजिक तत्वों द्वारा प्रतिमा विसर्जन के दौरान गलत तरीके से नारेबाजी एवं विसर्जन में अपमान करने के खिलाफ हिंदू युवा जनजाति संगठन ने राज्यपाल के नाम  राजोद थाने पर पहुंच कर सबइंस्पेक्टर टोपे को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया गया कि दिनांक 2 सितम्बर को गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान गलत तरीके से नारे बाजी कर प्रतिमा को अपमान जनक तरीके से फेका गया। जिससे जनजाति आदिवासी समाज को सनातन हिन्दू समाज के खिलाफ भड़काया गया एवं समस्त हिन्दू समाज को ठेस पहुँची है। यह कृत्य करने वालो पर उचित एवं कठोर कार्यवाही की मांग की गई। इस दौरान पूर्व जिला पंचायत सदस्य जितेंद्र गामड़, सरपंच प्रतिनिधि सुनील वसुनिया, कांजी सरपंच नन्दलाई, जगदीश भाबर, गणेश गामड़, दिलीप पटोलिया, सुनील डामर, सागर अजनार, रमेश लाबरिया, जगदीश, सुरेश, ईश्वर, प्रकाश, बबलु, गोपाल, प्रकाश, मुकेश, अमरसिंह, भारत, अक्षय, गिरधारी आदि मौजूद थे।
चर्चा के दौरान सब इंस्पेक्टर टोपे ने बताया कि रेशम गारा की  घटना को लेकर थाना कानवन पर  प्रकरण दर्ज कर कुल 9 लोगो को गिरफ्तार जेल भेजा जा चुका है।

Post a comment

 
Top