राजगढ़। श्री राजेंद्रसूरि साख सहकारी संस्था के जमाकर्ताओं को पिछले डेढ़ वर्षाे से रुपैया नहीं मिला हैं। शासन की ठिली रणनीति के चलते अनातनदार यहां-वहां भटकनें को मजबूर हैं। नतिजतन शुक्रवार को स्थानीय नगर परिषद प्रांगण में जिले के अलग-अलग स्थानों से आए लोगों ने सांकेतिक धरना प्रदर्शन कर विरोध जताया। इस दौरान लोगों ने शासन से रूपयों जल्द लौटाने की मांग की। इस दौरान खाताधारकों के हाथों में तख्तियां भी थी। धरना प्रदर्शन सुबह 11 बजे से प्रारंभ होकर दोपहर तक चला। इसमें नगर सहित कड़ौदकला, दसाई, बाग, कुक्षी, निसरपुर, डेहरी आदि स्थानों से अमानतदार पहुंचे थे। इस दौरान पूर्व पार्षद निलेश सोनी व कुक्षी निवासी सोमेवश्वर पाटीदार भी मौजूद थे।

नही मिले रुपये - बाग निवासी मोतिलाल अनारे ने बताया कि राजेंद्रसूरि की बाग स्थित शाखा में उनके द्वारा 4 लाख 4 हजार 200 रूपये जमा कराएं गए थे। संस्था के संचालकों पर दर्ज होने के पूर्व कई बार रूपयों की मांग को लेकर शाखा में गुहार लगा चूके थे, लेकिन उन्हें रूपया नहीं मिला हैं। अब भी वे अपने रूपये को लेकर परेशान हो रहे हैं, लेकिन कोई राहत मिलती नहीं दिखाई दे रहें हैं। वही कड़ौदकला निवासी व्यक्ति ने बताया कि संस्था में उनके द्वारा 5 लाख रूपये जमा कराएं थे, उनकी बेटी की शादी के लिए उन्होंने संस्था संचालक सुरेष तातेड़ के घर पर कई बार चक्कर लगाएं, लेकिन हर बार आश्वासन देकर टाल दिया गया और आज भी उन्हें रूपया नहीं मिला।

Post a comment

 
Top