राजगढ़। जैन समाज के सर्वाधिक महत्वपूर्ण तीर्थ श्री पालीताणा में तलहटी के बिलकुल नजदीक स्थित श्री नवरत्न धाम ट्रस्ट मंडल के पुर्नगठन में संपूर्ण मध्य प्रदेष से वीरेंद्र जैन राजगढ़ को ट्रस्टी के रूप में नियुक्त किया गया है। ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी नरेंद्र वाणीगोता ने बताया मालव भूषण तप षिरोमणी आचार्यश्री नवरत्न सागर सूरीश्वरजी के पट्टधर युवाचार्यश्री विश्वरत्न सागर सूरीष्वरजी की अनुशंसा पर यह नियुक्ति मप्र से हुई है। ट्रस्ट मंडल से संपूर्ण भारत के विभिन्न क्षेत्रों से जैन समाज के लोगों को प्रतिनिधित्व प्रदान किया गया है। मप्र का प्रतिनिधित्व जैन करेंगे। स्मरणीय है कि आचार्यश्री नवरत्न सागरसूरीश्वरजी ने इस ट्रस्ट एवं धर्मषाला के निर्माण का सपना देखा था। यहां साधु-साध्वियों के वैयावच्च की उत्तम व्यवस्थाएं की जा रही हैं। सागर समुदाय के सभी अनुयाइयों का एक महत्वपूर्ण केंद्र बनाने का भी सपना आचार्यश्री का ही था। इसे उनके पट्टधर युवाचार्यश्री विष्वरत्न सागरजी मसा पूर्ण करने में लगे हुए हैं। इस परिसर का शुभारंभ चातुर्मास के बाद किए जाने की संभावना है। यहां पर पालीताणा आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए आधुनिक सुख-सुविधाएं उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है।

Post a comment

 
Top