भोपाल। किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल हरदा जिले में लगातार दौरा कर बाढ़ प्रभावितों की मदद में जुटे हैं। जिले के जिन गांवों में बाढ़ के पानी के साथ गृहस्थी का सामान बह गया वहां राहत सामग्री वितरित की जा रही है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में प्रति परिवार पांच हजार रुपए की सहायता राशि के साथ पचास किलो गेंहूं और पांच लीटर केरोसीन के साथ आवश्यक घरेलू सामान दिया जा रहा है। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि क्षतिग्रस्त मकानों का मुआवजा देने के लिए पूरे इलाके की वीडियोग्राफी के साथ सर्वे किया जाएगा। मंत्री श्री कमल पटेल ने आज जिले के बाढ़ प्रभावित गांव उंढाल पहुंचकर प्रभावितों को राहत सामग्री प्रदान की। ग्राम के कुल 40 परिवार को जरूरत की सामग्री प्रदान की गई। उंढाल गांव पूरी तरह बाढ़ में डूब गया था, यहां फंसे लोगों को रेस्क्यू कर राहत शिविरों में पहुंचाया गया था। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि उंढाल में बाढ़ के कारण काफी तबाही हुई है। उनके जीवन को पुनः पटरी पर लाना हमारी जिम्‍मेदारी है। उन्‍हें सुरक्षित रूप से बसाना हमारी पहली प्राथमिकता है। उन्होंने आशवस्त किया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्के मकान निर्मित कराए जाएंगे ताकि लोगों को हमेशा के लिये बाढ़ की परेशानियों से राहत मिल सके। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का वीडियोग्राफी के साथ सर्वेक्षण किया जाएगा इसके आधार पर क्षतिग्रस्त हुए मकानों की मरम्मत के लिए मुआवजा स्वीकृत किया जाएगा। मंत्री श्री पटेल बाढ़ प्रभावित ग्राम हंडिया भी पहुंचे और बाढ़ पीड़ितों को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। ग्रामीणों ने जलभराव रोकने के लिए बड़े नाले सहित हरदा रोड पर दो पुलिया बनाने की मांग की है जिससे आवागमन सुगम हो सके। मंत्री श्री पटेल ने मौके पर मौजूद लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को डीपीआर बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

Post a comment

 
Top