भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में 16 सितंबर से 23 सितंबर तक गरीब कल्याण सप्ताह में मंत्रियों को जन-कल्याण के कार्यक्रमों में सहभागिता करने को कहा है। यह कार्यक्रम निरंतर 8 दिन राज्य और जिला स्तर पर होंगे। फेसबुक, ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से इन कार्यक्रमों से लाखों लोग जुड़ेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन कार्यक्रमों से अधिकाधिक लोगों को जोड़ने के निर्देश सभी विभागों को दिए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह कार्यक्रम किसी एक या दो विभाग के न होकर राज्य सरकार के हैं। इनसे जन-जन के कल्याण का उद्देश्य पूर्ण हो रहा है। अतः कार्यक्रमों में प्रत्येक विभाग सक्रिय रूप से शामिल हों। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रि-परिषद की बैठक प्रारंभ होने के पूर्व मंत्रियों से चर्चा करते हुए कहा कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री श्री मोदी का जन्म दिवस है। वह एक व्यक्ति नहीं संस्था हैं। उनके ह्रदय में बचपन से निर्धनों के प्रति करूणा का भाव रहा है। उनके बाल्यकाल से साहस के वृतांत जानने को मिलते रहते हैं। श्री नरेन्द्र मोदी जी ने स्वामी विवेकानंन्द का साहित्य पढ़ा और समाज सेवा के लिये जीवन अर्पित किया है। वे जिस भी संगठन से जुड़े, उसे गतिशील बनाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा जब गुजरात की बेहाल दशा थी, तब श्री मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने और उन्होंने गुजरात की काया पलट कर दी। गुजरात मॉडल भी लोकप्रिय हो गया। श्री मोदी कला, संस्कृति, इतिहास के अध्येता हैं। वर्ष 2014 से उन्होंने गौरवशाली, वैभवशाली और समृद्ध भारत के निर्माण के लिये प्रभावी कदम उठाये हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि श्री मोदी के सक्षम नेतृत्व मे भारत एक महाशक्ति बन गया है। सर्जिकल स्ट्राइक का उदाहरण हो या चीन से जूझने का निर्णय, उन्होंने देश को बदल कर रख दिया है। अयोध्या के मामले के साथ ही कश्मीर से धारा 370 समाप्त करने का मामला हो अथवा तीन तलाक और नागरिकता कानून का विषय हो ,उनके साहस से सभी परिचित हैं। वे राष्ट्रभक्ति के भाव से कार्य करने वाले योगी प्रधानमंत्री हैं।

मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण सप्ताह
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश में गरीब सप्ताह के अंतर्गत 16 सितम्बर से 23 सितम्बर तक विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं में हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। यह कार्यक्रम गरीबों की जिंदगी में प्रसन्नता के रंग भरेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 16 सितम्बर को अन्न उत्सव का आयोजन होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री के जन्म दिवस पर आंगनवाड़ी केन्द्रों में कुपोषित बच्चों को दूध बांटा जाएगा। इसी दिन सरपंचों के उन्मुखीकरण और लाड़ली लक्ष्मी योजना की राशि का वितरण भी होगा। मंत्रिगण इन कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 18 सितम्बर को 18 लाख किसानों के खातों में साढ़े चार हज़ार करोड़ रुपए की फसल बीमा राशि जमा की जाएगी। इसी तरह 19 सितम्बर को वनाधिकार पट्टों का वितरण और 20 सितम्बर को स्व-सहायता समूहों के सशक्तिकरण के लिये उनको 150 करोड़ रूपये की राशि देने का कार्य किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 21 सितम्बर को ग्रामीण क्षेत्र के स्ट्रीट वेंडर्स को लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें प्रति हितग्राही 10-10 हजार रूपये की ऋण राशि, कार्यशील पूंजी के रूप में प्राप्त कर अपने लघु व्यवसाय का उन्नयन कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि गरीब कल्याण सप्ताह में 22 सितम्बर को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण होगा। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण वितरण के लिये 800 करोड़ रूपये की राशि सहकारी बैंकों में जमा करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 23 सितम्बर को सम्बल योजना में हितग्राहियों को हित लाभ दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह सभी कार्यक्रम कोरोना काल में एक साथ विभिन्न वर्गों को लाभान्वित कर प्रदेश की तक़दीर और तस्वीर बदलने का कार्य करेंगे।

Post a comment

 
Top