नई दिल्ली। कोरोना वायरस के जो आकंड़े सामने आ रहे हैं उनसे लग रहा है कि देश में कोरोना की स्थिति कुछ हद तक कंट्रोल में होने जा रही है। लगातार तीसरे दिन इस तरह के आंकड़े सामने आए हैं जिनमें कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी देखने को मिली है और कोरोना वायर से रिकवरी की दर भी 80 प्रतिशत के ऊपर पहुंच गयी है। एक अच्छा संकेत यह भी है कि कोरोना के नए आने वाले मामलों के मुकाबले अब कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक सोमवार को लगातार तीसरे दिन कोरोना वायरस के एक्टिव मामलों में कमी आई है, शनिवार को जो आंकड़े जारी हुए थे उनमें एक्टिव मामलों में 3790 की कमी दर्ज की गई थी, फिर रविवार को जारी हुए आंकड़ों को देखें तो एक्टिव मरीजों की संख्या 3140 घटी था और आज सोमवार को जारी आंकड़ों में एक्टिव मामलों की संख्या में 7525 की कमी दर्ज की गई है। लगातार 3 दिन तक एक्टिव मामलों में कमी आना एक अच्छा संकेत समझा जा सकता है। देश में अब कोरोना के कुल एक्टिव मामले 10,03,299 हैं।

हालांकि अभी भी कोरोना वायरस के मामले जिस संख्या में आ रहे हैं वह कम नहीं है, दुनियाभर में किसी भी देश में रोजोना सामने आने वाले नए कोरोना मामलों में भारत सबसे आगे है। पिछले 24 घंटों यानि रविवार सुबह 8 बजे से लेकर सोमवार सुबह 8 बजे के दौरान देशभर में कोरोना वायरस के 88961 नए मामले आए हैं और कुल कोरोना मामलों का आंकड़ा 5487580 हो गया है। हालांकि कोरोना के नए मामले जिस संख्या में आ रहे हैं उससे ज्यादा लोग अब रोजाना ठीक हो रहे हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान देशभर में 93956 लोग कोरोना वायरस से ठीक हुए हैं। अबतक देशभर में कुल 4396399 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं और देश में कोरोना वायरस का रिकवरी रेट 80.11 प्रतिशत हो गया है। नए कोरोना मामलों के मुकाबले ठीक होने वाले लोगों की संख्या अधिक होने की वजह से ही एक्टिव मामलों में कमी आई है। हालांकि कोरोना वायरस की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक 24 घंटों में 1133 लोगों ने देशभर में कोरोना की वजह से जान गंवाई है। कोरोना वायरस अबतक देश में 86752 लोगों की मौत का कारण बन चुका है। कोरोना मरीजों की पहचान के लिए देशभर में टेस्टिंग लगातार बढ़ाई जा रही है, रविवार को देशभर में रिकॉर्ड 7.31 लाख से ज्यादा कोरोना टेस्ट हुए हैं और कुल कोरोना वायरस टेस्टिंग का आंकड़ा अब बढ़कर 6.43 करोड़ को पार कर चुका है। दुनियाभर में अमेरिका के बाद भारत में ही सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट हो रहे हैं।  

Post a comment

 
Top