राहुल राठौड़, राजोद। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी नगर में तेजा दशमी पर्व राजोद सहित आसपास क्षेत्र में मनाया गया। स्थानीय तेजाजी मंदिर पर सुबह से ही दर्शन के लिये श्रध्दालुओ  का आने का क्रम जारी रहा जो देर रात तक चलता रहा। तेजाजी उत्सव समिति के द्वारा मंदिर पर आने वाले भक्तों से  सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने हेतु पर्याप्त व्यवस्था की गई। सर्प काटने पर बांधी गई तांती खोली गई। इस दौरान मंदिर में विशेष साज-सज्जा की गई थीं। मन्नताधारी ने अपनी मन्नत पूरी होने पर निशान चढाये। कोरोना वायरस के कारण इस बार अखाड़े नहीं निकल सके।

Post a comment

 
Top