राजगढ़। राजगढ़ एवं सरदारपुर में बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को देखते हुए व्यापारियों एवं आम नागरिकों की सहमति से 8 दिन का स्वेच्छिक लॉक डाउन लगाया। यह लॉक डाउन रविवार से प्रारंभ हुआ। वैसे हर रविवार को प्रशासन द्वारा लॉक डाउन लगाने के फैसले के चलते स्वेच्छिक लॉक डाउन का असर आज देखने को मिला। राजगढ़ एवं सरदारपुर में गुलजार रहने वाले बाजारों में सन्नाटा दिखाई दिया। जरूरी सामानों की दुकानें जैसे मेडिकल, दूध की दुकानें ही खुली रही।

नगर भ्रमण कर की अपील - 
नगर में स्वेच्छिक लॉकडाउन को काफी समर्थन मिला। प्रातः से ही राजगढ़ में विधायक प्रताप ग्रेवाल, बीएमओ डॉ. एमएल जैन, डॉ. राहुल कुलथिया, नगर परिषद अध्यक्ष भंवर सिंह बारोड़ सहित अनेक प्रबुद्धजनों ने भ्रमण कर स्वेच्छिक लॉक डाउन का पालन करने हेतु नगर भ्रमण कर अपील भी की। जो लोग स्वेच्छिक लॉक डाउन का पालन नही कर रहे थे उनकी प्रतिष्ठानों पर पहुँचकर उनसे गांधीवादी रूप से अपील की गई।
कोरोना से मरने वालों को दी श्रधांजलि - 
नगर के पुराना बस स्टेंड पर नगर हित में लिए गये स्वेच्छिक लॉक डाउन का हर हाल में पालन करने की शपथ डॉ. एमएल जैन द्वारा दिलवाई गई। इसके पूर्व जिनकी मौत कोरोना से हुई हैं उन्हें श्रधांजलि दी गई।

स्वेच्छिक लॉक डाउन का ऐतिहासिक फैसला - 
राजगढ़ सहित सरदारपुर में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। ऐसे में व्यापारियों एवं जनता की सहमति से ऐतिहासिक फैसला लेते हुए स्वेच्छिक लॉक डाउन का निर्णय लिया है। स्वेच्छिक लॉकडाउन को समर्थन देने की अपील करते हुए हेतु डॉ. एमएल जैन ने कहा कि हमें अगर कोरोना को मात देनी है तो नगर में स्वेच्छिक लॉक डाउन का पालन करना होगा। बच्चो एवं बुजुर्गों को विशेष रूप से घर में ही रखे क्योकि कोरोना सबसे ज्यादा इन्ही पर हावी हो रहा है। वही विधायक प्रताप ग्रेवाल ने कहा कि जनता एवं व्यापारियों की सहमति से स्वेच्छिक लॉक डाउन लगाने का निर्णय सराहनीय है। हम सभी को इसका पालन करना है। लॉक डाउन के दौरान अपने घर में ही रहें कोई भी बेवजह बाहर ना घूमे।

दुकानों से सामान देते हुए फोटो हुए वायरल - 
एक और जहाँ नगर में स्वेच्छिक लॉक डाउन को काफी समर्थन मिल रहा है वही कुछ लोग आधी दुकान खोलकर व्यापर करते हुए दिखे। जिनके फोटो शोसल मीडिया पर दिनभर वायरल होते रहे।  ऐसे में देखना यह भी दिलचस्प होगा की स्वेच्छिक लॉक डाउन कहा तक कारगर साबित होता है।

Post a comment

 
Top