नरेन्द्र पँवार, दसाई। नगर में शनिवार को डोल ग्यासर कोरोना वायरस के चलते सादगी के साथ मनाया गया। शाम करीबन 6 बजे सभी मन्दिरो के डोल नगर के प्रसिद्व गगांजलिया पर ले जाकर पूजा-अर्चना की वही महाआरती के साथ-साथ प्रसादी का वितरण भी किया गया। इस बार डोल में किसी भी प्रकार का प्रर्दशन नही था। प्रतिवर्ष डोल निकलने पर हजारो श्रद्वालु दर्शन लाभ लेने के लिऐ नगर में उपस्थित रहते थे मगर इस बार मात्र मन्दिर के पूजारी के साथ-साथ परिवार के लोग उपस्थित थे।  80 वर्ष के दुर्गादासजी वैष्णव ने बताया कि आज जिस प्रकार डोल निकले उससे पूराने जमाने की याद ताजा हो  गई। पहले भी सिर पर भगवान को ले जाकर  पूजा-अर्चना की जाती थी। आज वही जमाना आ गया।

Post a comment

 
Top