राजगढ़। नगर के मध्य स्थित श्री राजराजेश्वर महाकाल मंदिर में सुबह से ही केसरिया पताकाएं लगा दी गई एवं प्रात: 10 बजे से 1 बजे तक भजन कर भगवान राम का स्मरण किया। सायं शिवलिंग को भगवान राम का रूप दे कर श्रृंगार किया तथा भगवान राम की रंगोली बनाई गई। नगरवासियों ने अपने घरों में दीपक लगाने के पश्चात मंदिर में दीपक लगा कर मंदिर को दीप्तिमान कर दिया। सांय महाकाल की आरती के पश्चात भगवान राम की आरती, राम स्तुति तथा रामायण जी को पुष्प अर्पण कर रामायण जी की आरती की। पूरे नगर में आतिशबाजी कर जश्न मनाया। मंदिर के पंडित भूपेंद्र तिवारी ने बताया कि आज का दिन पूरे देशवासियों के लिए महत्वपूर्ण दिन है, कई सालो से सनातनधर्म चाहता था कि रामलला अपनी अयोध्या नगरी में विराजित हो और रामलला आज अभिजीत महुर्त में विराजित हुए।

Post a comment

 
Top