भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को देवास जिले की खातेगांव तहसील में सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का जायजा लेने पहुंचे। इस अवसर पर कृषि उपज मण्डी परिसर खातेगांव में किसानों एवं ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सोयाबीन फसल में हुए नुकसान की भरपाई की जायेगी। फसल बीमा एवं राहत राशि मिलाकर किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि संकट की इस घड़ी में प्रदेश सरकार किसानों के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि दो दिन पहले सांसद श्री रमाकान्त भार्गव ने उन्हें अवगत कराया कि खातेगांव में सोयाबीन की फसल खराब हो रही है, ऐसी स्थिति में मैंने तय किया कि संकट की इस घड़ी में किसानों के बीच में जाउंगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि यह समय संकट का है। कोरोना की महामारी के कारण अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है। एक बड़ी राशि कोरोना मरीजों के इलाज में खर्च की जा रही है। ऐसे समय में भी प्रदेश सरकार किसानों को फसल नुकसान का पर्याप्त मुआवजा देगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि फसल बीमा योजना में पंजीयन कराने की अंतिम तिथि 31 अगस्त तक बढा दी है। जिला प्रशासन को निर्देश दिये की अंतिम तिथि से पूर्व ऋणि एवं अऋणी सभी प्रकार के किसानों का बीमा प्राथमिकता से कराये।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि पूर्व में पात्रता पर्ची न होने के कारण गरीबों को राशन नहीं मिल पा रहा था, लेकिन प्रदेश सरकार ने सभी पात्र व्यक्तियों को एक सितम्बर से राशन देने का निर्णय लिया है। 31 सौ करोड़ रूपये की फसल बीमा की राशि किसानों के खाते में डाली गई है। साथ ही 6 सितम्बर तक 19 लाख किसानों के खातों में 4 हजार 500 करोड रूपये की राशि डाली जायेगी। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर कर्ज लेकर भी सरकार यह कार्य करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वे जनता के मुख्यमंत्री हैं संकट की इस घड़ी में किसानों को दुखी नहीं देख सकते हैं। इसलिए पुराने मनमाने बिजली बिल स्थगित कर दिये गये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे अब प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर जाकर किसानों की समस्याओं से अवगत होंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की हर समस्या का समाधान किया जायेगा। विधायक श्री आशीष शर्मा ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि खातेगांव में किसानों की सोयाबीन फसल पर कीट का हमला हुआ है, जिससे किसानों पर गहरा संकट आन पड़ा है। प्रदेश में जब भी ऐसी संकट की घड़ी आई है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानों की मदद के लिए हर संभव सहायता की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार संकट की इस घड़ी में किसानों को सबंल एवं सहारा देगी। इस अवसर पर सांसद श्री रमाकान्त भार्गव, श्री राजीव खण्डेलवाल, श्री नारायण चौधरी, जन-प्रतिनिधगण, प्रशासनिक अधिकारी, किसान, श्रमिक और ग्रामीणजन मौजूद थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खेतों में जाकर फसलों का जायजा लिया
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम पंचायत पाड़यादेह के ग्राम खिरनीखेडा में किसानों के खेतों में जाकर सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का जायजा लिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसान श्री विक्रम पिता बाबूलाल जायसवाल और बलराम पिता रमेश के खेत में जाकर सोयाबीन की फसल को देखा। किसानों ने बताया कि सोयाबीन की फसल दो दिन पूर्व हुई लगातार बारिश से खराब हो गई है। किसानों की फसल देखकर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किसानों की सरकार है। किसान चिंता न करे, प्रदेश सरकार संकट की इस घड़ी में किसानों के साथ खड़ी है।

Post a comment

 
Top