रमेश प्रजापति, सरदारपुर। लॉक डाउन के दौरान आई आपदा को जनपद पंचायत सरदारपुर द्वारा अवसर में बदलते हुए प्रवासी मजदूर तथा क्षेत्रीय मजदूरों की मदद से बंजर पहाड़ी को हरा भरा बना दिया है। सरदारपुर तहसील के ग्राम पंचायत सुल्तानपुरा स्थित अति प्राचीन गंगामहादेव धाम इन दिनों  लहलहाती हरियाली के चलते पर्यटन स्थल बन चूका हैं। इन दिनों क्षेत्र के सैकड़ो लोग गंगा महादेव कि हरियाली का लुत्फ़ उठाने एवं पिकनिक मनाने पहुँच रहें हैं। क्षेत्रीय विधायक प्रताप ग्रेवाल एवं जिला पंचायत सदस्य कमल यादव के प्रयासों से जनपद पंचायत सरदारपुर द्वारा मनरेगा के तहत कार्य योजना बनाकर यहाँ की बंजर पहाड़ी पर हजारों पौधे लगाए गए साथ ही कन्टूर एवं तालाब की मदद से गंगा महादेव में वर्षभर झरना बहने की उम्मीद है। आपको बता दे की गंगा महादेव अतिप्राचीन धाम है यहाँ गुफा में विराजित महादेव के दर्शन करने के लिए क्षेत्र सहित दूर दराज से श्रद्धालु पहुँचते है।
250 मजदूरों ने किया प्रतिदिन कार्य -
जनपद पंचायत के सहायक यंत्री राजेश परमार ने बताया कि गंगा महादेव की बंजर पहाड़ी पर क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के सहयोग से एवं वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में कार्य योजना बनाई गई। यहाँ लॉक डाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों सहित क्षेत्र के 250 मजदूरों ने प्रतिदिन कार्य कर 4 माह में बंजर पहाड़ी को हराभरा बना दिया। पहाड़ी पर 2 हजार पौधे रोपे गए। जो अब लहलहा उठे हैं। गंगा महादेव में दर्शन के लिए आने वाले पर्यटक अब इस पहाड़ी के प्राकृतिक सौंदर्य का भी लुत्फ़ उठा रहें हैं।
लाखों घन मीटर पानी से वर्षभर बहेगा प्राकृतिक झरना -
गंगा महादेव पहुँचने वालों को यहाँ पर बहने वाला प्राकृतिक झरना अपनी और काफी आकर्षित करता है। पानी के अभाव में यह झरना बरसात के मौसम में ही बहता है। लेकिन इस बार पहाड़ी पर बनाए गए तालाब, कंटूर व आरएमएस की वजह से वर्षभर झरना बहने की उम्मीद है। जनपद पंचायत के सहायक उपयंत्री राजेश परमार ने बताया कि गंगा महादेव की बंजर पहाड़ी पर 225 रनिंग मीटर पक्की बोल्डर वाल तथा 700 मीटर पत्थरों की दिवार बनाई गई हैं जो पहाड़ी आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं। साथ ही पहाड़ी पर 3 आरएमएस, 750 कंटूर बनाए गए। वर्तमान में 12 लाख घन मीटर पानी जमा है। जिससे यहाँ बहने वाला प्राकृतिक झरना वर्ष भर बहेगा ऐसी उम्मीद है।
भविष्य में और रोपें जाएंगे पौधे -
जिला पंचायत सीईओ संतोष वर्मा ने बताया कि गंगा महादेव प्राकृतिक स्थल हैं। इसको देखते हुए ग्राम पंचायत सुल्तानपुरा के सहयोग से बंजर पहाड़ी को हरा भरा किया गया हैं। तीर्थ स्थल होने से यहाँ सैकड़ो लोग पहुँचते है। भविष्य में और पौधे रोपें जाएंगे एवं पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा।

Post a comment

 
Top