भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने  कहा है कि उज्जैन जिले में कोरोना के नियंत्रण में उत्कृष्ट कार्य हुआ है। शुरुआत में उज्जैन में कोरोना संक्रमण तेजी से फैला परंतु बाद में प्रशासन की कर्मठता समाज के विभिन्न वर्गों एवं जनसामान्य के पूरे सहयोग से कोरोना पर नियंत्रण पा लिया गया है। आज उज्जैन प्रदेश के सबसे कम संक्रमित जिलों से एक है। इसके लिए जिला प्रशासन सहित सभी बधाई के पात्र हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान उज्जैन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शीघ्र ही सभी के सहयोग से उज्जैन जिला कोरोना पर जीत हासिल करेगा, लेकिन हमें अभी भी कोरोना को हराने के लिये अत्यधिक सावधान रहने की आवश्यकता है। लोग फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें, अनिवार्य रूप से मास्क लगायें। कोरोना से बचने का यही एक प्रभावी तरीका है।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सामान्य लक्षण वाले मरीजों को होम क्वारेंटाईन में रखा जाये। चिकित्सक उनके घरों में जाकर उन्हें देखते रहें। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब आवश्यकता इस बात की है कि कोरोना संक्रमण से किसी मरीज की मृत्यु न हो। इसके लिये उन्होंने पुख्ता रणनीति बनाकर कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने नई गाईड लाइन जारी की है, जिसमें अब सार्वजनिक रूप से धार्मिक आयोजन या पर्व नहीं मनाये जायेंगे। शादी-ब्याह में भी वर एवं वधू पक्ष से 10-10 व्यक्ति ही शामिल होंगे।

कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने बताया कि उज्जैन जिले में 73 एक्टिव केस है। आरडी गार्डी अस्पताल में 11, इन्दौर में तीन, माधव नगर चिकित्सालय में 44 मरीज है तथा 15 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। इनमें से तीन मरीज क्रिटिकल स्थिति में है। कलेक्टर ने फीवर क्लीनिक की जानकारी देते हुए बताया कि चिकित्सालयों में स्थापित फीवर क्लीनिक में 3335 व्यक्तियों का पंजीयन किया गया, जिनमें 142 सस्पेक्टेड लोगों को चिन्हित किया गया। प्रायवेट फीवर क्लीनिक में 1412 लोगों को पंजीकृत किया गया, जिनमें से 254 सस्पेक्टेड लोगों को चिन्हित किया गया। इन सभी जगहों से टोटल 102 पॉजीटिव मरीज पाये गये। मास्क न लगाने वाले एवं नियमों का पालन न करने वाले लोगों पर स्पाट फाइन करते हुए चार लाख 28 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया। पुलिस अधीक्षक श्री मनोज कुमार सिंह ने बताया कि जीवन मित्र योजना के तहत जिले के 80 हजार लोगों को मास्क पहनने की शपथ दिलाई गई। दस होम क्वारेंटाईन चेकिंग पार्टी, 12 मोटर सायकल पार्टी, 24 चार पहिया वाहन पेट्रोलिंग पार्टी बनाई गई। कंटेनमेंट एरिया में 840 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई। सीसीटीवी कैमरों से भी मॉनीटरिंग की गई

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जिले के एनआईसी कक्ष में प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, सांसद श्री अनिल फिरोजिया, महापौर श्रीमती मीना जोनवाल, विधायक श्री पारस जैन एवं श्री बहादुरसिंह चौहान, स्थानीय जनप्रतिनिधि सहित कमिश्नर श्री आनन्द कुमार शर्मा, पुलिस महानिरीक्षक श्री राकेश गुप्ता, डीआईजी श्री मनीष कपूरिया सहित जिला प्रशासन के अधिकारीगण उपस्थित थे

Post a comment

 
Top