नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के आंकड़े भयानक लगने लगे हैं। भारत में संक्रमण अभी भले ही अमेरिका और ब्राजील के मुकाबले कम हो लेकिन जिस रफ्तार से संक्रमण बढ़ रहा है वह चिंता का विषय है। पिछले 24 घंटे यानि बुधवार सुबह 8 बजे से लेकर गुरुवार सुबह 8 बजे के दौरान देश में कोरोना वायरस के रिकॉर्ड 52123 मामले आए हैं और वायरस की वजह से 24 घंटे में 775 लोगों की जान गई है। इन आंकड़ों को अगर मिनटों और घंटों के हिसाब से देखें तो चौंक जाएंगे। संक्रमण इतनी तेजी से फैल रहा है कि हर मिनट देश में कोरोना वायरस के 36.19 नए मामले सामने आ रहे हैं। और संक्रमण की वजह से जान गंवाने वालों को देखें तो हर घंटे 32.29 लोगों की जान जा रही है। समय रहते अगर इस संक्रमण पर काबू नहीं पाया गया तो जोखिम बढ़ सकता है।

सरकार ने जब से लॉकडाउन में ढील दी है और पहला अनलॉक किया है तभी से संक्रमण तेजी से फैला है। बुधवार शाम को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने तीसरे अनलॉक के दिशा निर्देश भी जारी कर दिए हैं जिनके तहत अब रात में कर्फ्यू नहीं लगेगा और जिम, योगा क्लास चलाने को अनुमति दे दी गई है। कोरोना वायरस की वजह से पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाने के लिए सरकार को मजबूरी में अनलॉक करने पड़ रहे हैं लेकिन इसकी वजह से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और भी बढ़ गया है। जिस गति से देश में कोरोना के नए मामले बढ़ रहे हैं उस गति से अभी रिकवरी नहीं हो रही है। एक तरफ जहां देश में हर मिनट 36.19 नए कोरोना मामले आ रहे हैं वहीं हर मिनट अभी 22.60 लोग ही कोरोना से ठीक हो रहे हैं। हालांकि कुल मिलाकर देश में लगभग 65 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं लेकिन अब कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं जो चिंता का कारण है।

कोरोना के मामलों की पहचान के लिए भारत में टेस्टिंग को लगातार बढ़ाया जा रहा है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार बुधवार को देश में 4.46 लाख से ज्यादा कोरोना टेस्ट हुए हैं। अबतक देश में कुल 1.81 करोड़ से ज्यादा टेस्ट हो चुके हैं। आकड़ो के मुताबिक देश में कोरोना संक्रमितों की आकड़ा 15 लाख 83 हजार 792 से अधिक पहुंच गया हे। इनमे से 10 लाख 21 हजार से अधिक लोग ठीक होकर अपने  घर पहुँच चुके है। 

Post a comment

 
Top