नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है, पिछले 24 घंटे के अंदर देश में कोरोना वायरस के नए मामलों का नया रिकॉर्ड बना है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे यानि शुक्रवार सुबह 8 बजे से लेकर शनिवार सुबह 8 बजे तक के दौरान देश में 22771 नए कोरोना वायरस मामले आए हैं और अब देश में कुल कोरोना वायरस मामलों का आंकड़ा बढ़कर 648315 हो गया है। हालांकि देश के कुल 648315 कोरोना वायरस मामलों में एक्टिव केस 235433 ही हैं। हालांकि पिछले 24 घंटे के अंदर देश में 14335 लोग ऐसे भी हैं जो कोरोना वायरस से पूरी तरह ठीक हो गए हैं और अब देश में कोरोना वायरस को हराकर ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 394226 पहुंच गई है और देश में कोरोना वायरस का रिकवरी रेट भी 61 प्रतिशत के करीब पहुंच गया है। लेकिन कोरोना वायरस की वजह से जान गंवाने वाले लोगों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। पिछले 24 घंटे के दौरान ही देश में कोरोना वायरस की वजह से 442  लोगों की जान गई है और इस वायरस की वजह से देशभर में अबतक कुल 18655 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। कोरोना वायरस की वजह से देश में सबसे ज्यादा मौतें महाराष्ट्र, दिल्ली और गुजरात में हुई हैं। महाराष्ट्र में यह वायरस 8376 लोगों की मौत का कारण बन चुका है जबकि दिल्ली में इसकी वजह से 2923 और गुजरात में 1904 लोगों की जान गई है।

कोरोना वायरस के मरीजों की पहचान के लिए देश में लगातार टेस्टिंग हो रही है। शुक्रवार को ही देशभर में कुल 2.42 लाख से ज्यादा टेस्ट किए गए हैं। देश में कुल कोरोना वायरस टेस्टिंग का आंकड़ा बढ़कर 95.40 लाख के पार पहुंच गया है। दुनियाभर में अमेरिका, रूस और ब्रिटेन के बाद कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा टेस्ट भारत में ही हो रहे हैं। वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस के मामलों की बात करें तो दुनियाभर में कुल मामलों का आंकड़ा बढ़कर 1.11 करोड़ के पार पहुंच गया है, अबतक दुनियाभर में कोरोना वायरस की वजह से 5.29 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि पूरी दुनिया में 63.30 लाख से ज्यादा कोरोना वायरस से ठीक भी हो चुके हैं। दुनियाभर में कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले अमेरिका में हैं जहां पर 28.90 लाख से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं और 1.32 लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है, इसके बाद ब्राजील में 15.43 लाख से ज्यादा केस सामने आए हैं और 63 हजार से ज्यादा की जान गई है। रूस में भी 6.67 लाख केस सामने आ चुके हैं

Post a comment

 
Top