नरेन्द्र पँवार, दसाई। कोरोना संक्रमण महामारी के प्रकोप के चलते जहॉ देशभर में शुभ काम बंद हैं वही विवाह समारोह भी कही नही हो रहे हैं। ऐसे में रविवार को दसाई नगर में एक परिवार द्वारा विवाह का आयोजन किया जो  सादगी के साथ सम्पन्न हूआ। यह  विवाह समारोह दसाई सहित आसपास क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया। दसाई के प्रसिद्व अतिप्राचिन रामरामेश्वर मन्दिर में पाटीदार समाज के दिनेश नराणमोति की बालिका हर्षिता पाटीदार का विवाह दसाई के ही कमलकिशोर के पुत्र तरुण पाटीदार के साथ दुल्हा और दुल्हन परिवार के 5-5 सदस्यो के साथ ही प्रशासन की उपस्थिति में  सम्म्पन्न हुआ। विवाह समारोह में लॉकडाउन का पूरा-पूरा पालन किया गया था। दुल्हा और दुल्हन के साथा-साथ परिवार के सभी सदस्यो द्वारा मास्क का उपयोग कर सोशल डिस्टेसिंग का पालन भी किया। विवाह समारोह के पण्डित गजेन्द्र शर्मा ने शादी कराते हूवे बताया कि अपने जीवन में इस प्रकार की अनोखी शादी पहली बार देखने को मिली। न कोई बारात और ना ही बैडबाजे थे साथ ही कोई नाचगान भी नही हुआ। समारोह पूर्ण विधि विधान के साथ आनंद पूर्वक कराया गया।

हमारे लिए यादगार बन गया यह दिन -
दुल्हन के पिता दिनेश पाटीदार ने बताया कि मेने बालिका का विवाह लॉकडाउन के पहले ही आज के दिन के लिये तय हो चुका था। में विवाह को लेकर काफी चिंतित था कि मेरे पुत्री का विवाह केसे सम्मन्न होगा मगर लॉकडाउन नही खुलने पर दोनो परिवार की खुशी को देखते हूवे यह विवाह समारोह का आयोजन किया। विवाह समोहर में सादगी होने से काफी आनंद आया। वही परिजन बालमुकुन्दं पाटीदार ने बताया कि मेरे भाणेज का विवाह रविवार को सादे समारोह में सम्मन्न हो गया। दोनो परिवार इस विवाह से काफी खुश हैं। परिवार द्वारा लॉकडाउन का पालन भी किया। आज का दिन शुभ मुर्हूत होने पर पहले से ही विवाह तय हो चुका था इस लिये यह मंगल कार्य आज सम्पन्न किया गया ।हर किसी ने वर-वधू को लॉकडाउन के चलते मोबाइल पर बधाई संदेश दिया। साथ ही दुल्हा और दुल्हन इस विवाह से काफी खुश भी हैं वही तरुण और हर्षिता का कहना है कि आज का दिन हमेशा के लिये यादगार बन गया एक तो विवाह के लिये और दूसरा लॉकडाउन में विवाह सम्पन्न होने पर।

Post a comment

 
Top