अमझेरा। यहाॅ की आदिम जाति सेवा समिति सोसायटी में इन दिनों शासन के निर्देशानुसार गेहुॅ तुलाई का कार्य प्रगति पर है तथा प्रतिदिन एक हजार क्विंटल से अधिक गेंहू की तुलाई की जा रही है। लेकिन तुले हुए गेंहू के परिवहन की दिक्कत के कारण सोसायटी परिसर में करीब चार हजार क्विंटल तुला हुआ गेहूं खुले आसमान में नीचे  ढेर बनाकर रखा हुआ है। इन दिनों मौसम प्रतिपल बदल रहा है तथा जिले व तहसील में कई जगह बारीश भी हुई है, लेकिन इसके बावजुद जिला विभाग के द्वारा तुले हुए माल को समय पर परिवहन नहीं किया जा रहा है। जिस कारण अमझेरा और मांगोद सोसायटी में माल रखने के लिए अब जगह भी नहीं बची है। वहीं बारीश का डर भी सता रहा है। यदि समय रहते गेंहू का परिवहन नहीं किया गया तो लाखो का गेंहू पानी में भींगकर खराब हो सकता है।

Post a comment

 
Top