धार। जिले में कोरोना के बढ़े संक्रमण के बीच लोग उसे हराकर अपने घर की ओर लौट रहें हैं। इसी सिलसिले में बुधवार का दिन धार जिलेवासियों के लिए बहुत ही सुखद रहा। क्योंकि बुधवार महाजन हाॅस्पिटल से 29 कोविड-19 पेशेंट पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर खुशी-खुशी अपने घर पहुॅचे। इस सुखद सिलसिले को जारी रखते हुए जिले में अब तक 70 पेशेंट कोरोना से लड़ाई लड़कर उस पर विजय प्राप्त करने में सफल हो चुके हैं, हॉलाकिं 2 पेशेंटो की मृत्यु हो चुकी हैं। अब धार जिले में पाॅजीटीव पेशेंटो की संख्या 13 रह गई हैं।

इस अवसर पर डिस्चार्ज होने वाले पेशेंटो ने कहा कि कोरोना वायरस की विषम परिस्थितियों में भी चिकित्सक और सहायक स्टाॅफ जिस तरह अपने मरीजों का सफल ईलाज कर रहे हैं उससे कोरोना पाॅजिटीप पेशेंटो के लिए हाॅस्पिटल एक आशा की किरण के रूप में उभरा हैं। प्रतिदिन निरंतर सुखद समाचारों से प्रत्येक व्यक्ति के चेहरे से तनाव दूर होकर संतोष के भाव आ रहे हैं। इस आपदा के दौर में अब वह दिन दूर नहीं जब धार जिला अपने आप को कोरोना मुक्त जिले के रूप में स्थापित करेगा। इसके साथ हम सभी की समस्त जिलेवासीयों से अपील हैं कि कोरोना संक्रमण से ना घबराएं अपितु स्वयं आगे आकर मेडिकल टीम से जाॅच करावें। कोरोना एक सामान्य सर्दी खांसी की तरह ही बीमारी हैं। इसको किसी से छुपाने की आवश्यकता नहीं हैं। इसका जितना जल्दी पता चलेगा, उतनी ही जल्दी इसका ईलाज हो पाएगा। उन्होनें बताया कि जिला प्रशासन द्वारा यहाॅ उच्च स्तरीय स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई हैं। यहां के हाॅस्पिटल डाॅक्टर्स/मेडिकल स्टाॅफ ने बहुत अच्छा ईलाज किया, साथ ही साथ उन्होनें हमारा मनोबल बढ़ाकर उत्साहवर्धन किया। इस तरह साझे प्रयास के फलस्वरूप ही हम कोरोना संक्रमण से पूर्णतः ठीक होकर अपने घर जा रहे हैं।

विधायक नीना विक्रम वर्मा, कलेक्टर श्रीकांत बनोठ, पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने डिस्चार्ज हुए कोरोना वीरों को फूलों से बने बुके, मेडिकल किट और गिफ्टस देकर उनका मनोबल बढ़ाया। साथ ही कर्तल ध्वनि के साथ उन्हें खुशी-खुशी घर की ओर विदाई दी।
पूर्ण स्वस्थ हुए 29 पेशेंट में डेहरी के इमरान, अकरम, ताहिर, साबिर, सिया, रूक्सार, साबिरा, फावद, अरमान, सामिया, इरफान, अजरूद्यिन, मरियाम, हरिना, अक्क्ष, कुक्षी के स्विटी, सुनीता, प्राशंसा, पीथमपुर के मरियाम, पट्ठा चौपाटी धार के मनीष, मिष्ठा, मान्वी, चन्द्रकांता, मोक्क्ष, गांधी कालोनी के मरियाम, ईमलीबन के ईसार, पौ चौपाटी के चिराग और भाजी बाजार के शिवांश व गजेन्द्र शामिल हैं।

Post a comment

 
Top