नई दिल्ली। सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ा तो दिया है लेकिन देश में लगभग 2 महीने से लॉकडाउन है और इसके बावजूद कोरोना वायरस के मामले 1 लाख को पार कर गए हैं। देश में कोरोना वायरस का पहला मामला 30 जनवरी को सामने आया था और तब से लेकर अबतक 111 दिन में 1 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक मंगलवार सुबह 9 बजे तक देशभर में कोरोना वायरस के कुल मामले बढ़कर 101139 हो गए हैं। कोरोना वायरस की वजह से देशभर में अबतक 3163 लोगों की जान भी जा चुकी है। पिछले 24 घंटे के दौरान देश में कोरोना वायरस के 4970 नए केस सामने आए हैं।

हालांकि देशभर के कुल 101139 कोरोना वायरस मामलों में 39173 लोग ऐसे भी हैं जो इस जानलेवा वायरस को हराकर पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। मृतकों और ठीक हुए लोगों के आंकड़ों को हटा दें तो देश में मौजूदा समय में कोरोना वायरस के 58802 एक्टिव मामले हैं। हालांकि कोरोना वायरस का संक्रमण पूरे देश में तेजी से नहीं फैला है, 4 राज्य ऐसे हैं जहां पर पूरे देश के कुल कोरोना वायरस मामलों के लगभग 68 प्रतिशत केस हैं और महाराष्ट्र अकेला ऐसा राज्य है जहां पर पूरे देश के कुल कोरोना वायरस मामलों के लगभग 35 प्रतिशत केस हैं। महाराष्ट्र में अबतक कोरोना वायरस के कुल 35058 मामले सामने आ चुके हैं और 1249 लोगों की जान जा चुकी है। महाराष्ट्र के बाद 11745 मामलों को साथ गुजरात, 11760 मामलों के साथ तमिलनाडू, और 10054 मामलों के साथ दिल्ली है। इन चार राज्यों में देशभर के कुल कोरोना वायरस मामलों के लगभग 70 प्रतिशत केस हैं।

दुनियाभर में कोरोना वायरस के अबतक 48.90 लाख से ज्यादा केस दर्ज किए जा चुके हैं और 3.20 लाख से ज्यादा लोगों की जान गई है। हालांकि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को हराकर 19 लाख से ज्यादा लोग ठीक भी हुए हैं। दुनियाभर में अबतक आए कुल कोरोना वायरस मामलों में सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में हैं जहां पर अबतक 15.50 लाख केस दर्ज किए गए हैं और 91 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

Post a comment

 
Top