सरदारपुर। कोरोना सक्रमंण के चलते देशव्यापी लाॅक डाउन मे मजदुर वर्ग बुरी तरह प्रभावित हुआ है। रोजगार नही मिलने से मजदुरो के सामने आजीविका का संकट खडा है। तहसील क्षैत्र मे गुजरात सहित अन्य प्रांतो मे रोजगार के लिये गये मजदुर आ चुके है। सरकार ने भी मजदुरो को रोजगार देने के लिये पंचायत स्तर पर जलसंवर्धन एंव हितग्राही मुलक कार्यो को फिर से आरंभ कर दिया है।
जनपद पंचायत सरदारपुर मे इन दिनो 70 से अधिक पंचायतो मे जलसंवर्धन एवं हितग्राही मुलक कार्यो को आरंभ किया गया है। जनपद पंचायत सरदारपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी शैलेन्द्र शर्मा ने बताया की सरकार के आदेशानुसार जनपद पंचायत मे मजदुरो को मजदुरी देने के लिये जलसंवर्धन एंव हितग्राही मुलक कार्य आरंभ किये गये है। जिनमे 1600 से अधिक मजदुरो को इन दिनो मजदुरी मिल रही हैै। श्री शर्मा ने बताया की जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत देदला, टांडाखेडा, मेहगांव, बर्डीपाडा, केशरपुरा तेली, हातोद सहित कई पंचायतो मे जलसंवर्धन के कार्य आरंभ किये गये है। जिनमे पहाडी पर कंटुर का निर्माण बोल्डर वाल एवं चैक डेम सहित कई निर्माण कार्य चलाये जा रहे है। श्री शर्मा ने बताया की इन निर्माण कार्य से आने वाले दिनो मे भुमिगत जलस्तर मे बढोतरी होगी। सीईओ शेलेन्द्र शर्मा ने बताया की निर्माण कार्य के दौरान कोरोना संक्रमण को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। मजदुरो को स्वास्थ परिक्षण के साथ ही उन्हे सोशल डिस्टेंट की दुरी बनाकर कार्य करवाया जा रहा है। वही मास्क लगाने के साथ उन्हे सेनेटाईज भी किया जा रहा है।
मनरेगा अधिकारी प्रवीण भाटी ने बताया की वर्तमान समय मे 70 पंचायतो मे निर्माण कार्य आरंभ हुये है। मांग के अनुसार इसे और भी बढाया जायेगा। 1600 के करीब मजदुरो को प्रतिदिन मजदुरी मिल रही है। श्री भाटी ने बताया की वर्तमान मे कार्यरत मजदुरो को 190 रू प्रतिदिन की दर से मजदुरी का भुगतान किया जायेगा। जबकी पुर्व मे यह 178 रू थी। जनपद पंचायत के एई राजेश परमार ने बताया की देदला पंचायत के फुल्कीपाडा मे कंटुर का निर्माण पहाडी पर करवाया जा रहा है। जिससे बारिश का पानी रिसकर जमीन मे जायेगा। परिणाम स्वरूप क्षैत्र के भुमिगत जलस्तर मे बढोतरी होगी। केशरपुरा तेली मे नाला निर्माण कार्य एंव टांडाखेडा मेहगांव मे बोल्डर वाल का निर्माण सहित अन्य पंचायतो मे हितग्राही मुलक कार्य करवाये जा रहे है। उक्त निर्माण कार्य सब इंजीनियर महेन्द्र भोयर, राजेन्द्र केन, धनेश शुक्ला के मार्गदर्शन मे देदला पंचायत सचिव जगदीश परमार, केशरपुरा तेली सचिव जगदीश मकवाना, टांडाखेडा सचिव बहादुर मकवाना के द्वारा करवाये जा रहे है।

Post a comment

 
Top