भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर श्रमिकों, छोटे व्यापारियों और कमजोर वर्गों के लोगों के लिए दो महीने का 15 हजार रुपये का राहत पैकेज देने की मांग की है। यह राहत पैकेज दो महीने तक हर महीने 7500 रुपये के रूप में दिया जाए, जिससे वे जीवन के अधिकार को सुरक्षित रख सकें। कमल नाथ ने पत्र में लिखा है कि उन्होंने कार्यवाहक मुख्यमंत्री के नाते कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन की स्थिति में गरीब व अवंचित-कमजोर वर्ग के लोगों के लिए तीन महीने का राशन और एक माह की मुफ्त राशि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत वितरित करने के निर्देश दिए थे। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान से आशा की है कि वे इन निर्देशों का पालन कराएंगे। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में श्रमिक वर्ग की आय बंद हो गई है। वे रोजमर्रा की आवश्यकताओं को पूरा नहीं कर पा रहे हैं।  लाखों छोटे व्यापारियों, जिनमें किराना व्यापारी, मोटर मैकेनिक, साइकिल पंक्चर बनाने वाले, मोची, कुम्हार, पान के दुकानदार आदि भी इसी स्थिति से गुजर रहे हैं। प्रदेश में ऐसे निम्न आय वर्ग के लोगों का जीवन संकट में है। कमल नाथ ने चौहान से मांग की है कि वे ऐसी विषम परिस्थितियों में प्रदेश के लोगों को राहत प्रदान करने का तुरंत निर्णय लें।

Post a comment

 
Top