नरेन्द्र पँवार, दसाई। गॉव में करोडो रुपये की लागत से बनी नल जल योजना मात्र दिखावा बन कर रह गई हैं। लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नही जा रहा है। परिणाम लाखो रुपये शासन के व्यर्थ में जा रहे हैं और जनता को जलसंकट भुगतना पड रहा हैं साथ ही नई योजना मात्र गॉववासियो के लिये अब भी सपना बन कर रह गई हैं। सरदारपुर तहसील का सबसे बडा गॉव दसाई है जिसकी आबादी 12 हजार से अधिक हैं जहॉ गर्मी प्रारम्भ होते ही जलसंकट प्रारम्भ हो जाता हैं। शासन ने इस गॉव की समस्या को ध्यान में रहते हूवे 2007 में लगभग एक करोड रुपये की लागत से नल जल योजना बनाकर काम भी प्रारम्भ किया था। जैसे ही काम प्रारम्भ हुआ जिससे गॉव में खुशी का माहौल बन गया और हर किसी को उम्म्मीद भी बन गई थी कि अब जलसंकट से नही झुझना पडेगा। लेकिन यह खुशी चंद दिनो में मायूसी में बदल गई। लगभग 12 साल होने को आये लेकिन आज तक काम अधूरा ही पडा मगर विभाग के आलाअधिकारी किस नींद में खोये हैं यह आज तक पता नही चला। परिणाम करोडो का काम मात्र शोपिस बन गया।
वर्ष 2007-08 में तत्कालीन विधायक मुकामसिह निगवाल ने अपने अथक प्रयास से जल सप्लाई परियोजना केन्द्र एवं राज्य सरकार की संयुक्त निधि से 98.07 लाख की लागत स्वीकृत हुई थी। परियोजना को 2009 तक पूर्ण होना था लेकिन पीएचई के अधिकारियो की लापरवाही तथा ठेकेदार से मिली भगत के चलते परियोजना का सफर 2020 तक पहुॅच गया लेकिन आज तक कार्य पूर्ण नही हुआ। जिसका खामियाजा जनता को भूगतना पड रहा हैं ये कार्य होना था इस योजना मेंः.योजना मंडल द्वारा अनुमोदित आवर्धन नल-जल प्रदाय योजना के तहत जल शुद्वीकरण संयत्र का निर्माण, पौने दो लाख लीटर क्षमता की टंकी का निर्माण, बामनखेडी तालाब से निमार्णधीन टंकी तक तथा टंकी से पूरे नगर में पेयजल विरतण की पाइप लाइन बिछानाएवाटर पंप की स्थापना, विद्युत कनेक्षन तथा रैप निमार्ण सहित समस्त कार्य करना।

.योजना के तहत पानी की टंकी तो बन गई लेकिन उस पर आज तक रैलिग नही लग सकी।वही बनी टंकी से सरिए आज भी दिखाई दे रहे हैं। इसका उपयोग भी नही हो पा रहा हैं। पानी की आपूर्ति के लिए अब तक कुॅआ नही बना एवही फिल्टर केवल कागज में नक्षे के तौर पर हैं। गॉव में कोई पाइप लाइन आज तक नही बिछाई गई है। तलाबः.दसाई से मात्र 3 किलोमीटर दूर बना बामनखेडी तालाब में दसाई के लिये 30 मिलियन धनमीटर पिने का पानी आरक्षीत रखना हैं मगर गर्मी के दिनो में तालाब में पानी के दर्शन तक नही होते है जिसकी वजह मात्र विभाग की लापरवाही हैं। परिणाम तालाब गर्मी के दिनो में मैदान बन जाता है। वर्तमान में जैसे-जैसे गर्मी का समय नजदीक आता जाता है जलसंकट गॉव में बढता जाता है। वर्तमान में यहॉ 4 बोरीग हैं जो गर्मी के दिनो में अन्तिम सांस गिनने लगते है। ऐसे में मात्र लुहारी वाला बोरीग ही दसाई वालो की प्यास बुझाता है। लेकिन समय पर जल का वितरण नही होने से लोगो को टेकर का सहारा लेना पडता है। जिससे आमजन को गर्मी के दिनो मे अतिरिक्त भार पडने लगता है। पाइप लाइनः.गॉव में लगभग 30 साल पहले नल जल योजना के तहत पाइप लाइन डाली गई थी। वर्तमान में पाइल लाइन की हालत खस्ता हो गई है। 3 इंच पाइप लाइन से ही पूरे गॉव में जल का वितरण किया जा रहा हैं वही इसी लाइन से 800 से अधिक नल कनेक्षन भी दिये गये हैंएजिसके कारण जल वितरण में काफी परेशानी हो रही हैं साथ ही नल में प्रेशर भी नही बन पाता हैं। जिसके कारण नल कनेक्षन वाले को काफी परेशानी का सामना करना पड रहा है। गॉव को देखते हूवे यहॉ बडी पाइप लाइन अति आवष्यक है। हेडपम्पः.यहॉ पर 30 हेडपंम्प गॉव में है। जिसमें से एक तो बंद हो गया है। गर्मी के बढते ही हेडपंप भी जवाब देना प्रारम्भ कर देगे जिसके चलते जलसंकट और बढ जावेगा ।

इनका कहना हैं -

दसाई में पानी की टंकी अभी तक प्रारम्भ हो जाना चाहिये थी मगर इस किसी का ध्यान नही गया जिसका परिणाम आमजन को भुगतना पड रहा है। आज पानी की दसाई में गम्भीर समस्या बन रही है। ऐसे में विभाग को ध्यान रखकर तुरन्त ही काम प्रारम्भ कर आमजन को राहत देना चाहिये। इस योजना को लेकर शिकायत क्रमांक 5962826 से जनसुनवाई में भी आवेदन दिया गया हैं लेकिन समाधान नही हो पाया हैं। - दिलीप सोनी ग्रामीण 

दसाई में कार्य अधूरा पडा हैं यह अभी मेरी जानकारी में आया हैं। इसको दिखवाकर कार्य को ष्षीघ्र ही प्रारम्भ करने का पूरा.प्रयास किया जावेगा। - केपी वर्मा कार्यपालन यंत्री जिला धार

विभाग में किसी भी प्रकार की जानकारी नही हैं । इस मामले को देखकर योजना के बारे में कुछ कर पायेगे। - नवलसिह भूरिया सहायक यंत्री पीएचई सरदारपुर

.योजना के बारे में विभाग के अधिकारी से बातचीत कर तुरन्त कार्य प्रारम्भ करने का प्रयास किये जावेगे एसाथ ही दसाई में जलसंकट को देखते हूवे कालीकिराय डेम से पानी लाने के लिये प्रयास किये जा रहे हें ताकि दसाई में शीघ्र ही जलसंकट का स्थाई समाधान हो सके। - प्रताप ग्रेवाल विधायक सरदारपुर

नल जल योजना के तहत पानी की टंकी का निर्माण तो हो चुका है लेकिन आज तक इस पानी की टंकी को पंचायत के हेड ओवर भी नही किया गया हैं साथ ही कोई पाइप लाइन भी गॉव में नही डाली गई है। इस सम्बन्ध में विभाग को भी लिखित एंच मौखिक रुप से अवगत करवा दिया गया हैं । योजना के तहत कई कार्य बाकि हैं। - राकेश भाटी सचिव ग्राम पंचायत दसाई

Post a comment

 
Top