सरदारपुर। तहसील के अमझेरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत भेरु घाट पर चने के खेत में माता-पिता के साथ सो रहा आनंद पिता मंजराव खराड़ी उम्र 7 वर्ष को तेंदुए ने हमलाकर मौत के घाट उतार दिया। घटना रात्रि 10:00 से 11:00 के बीच की है माता पिता द्वारा बताया गया है कि तेंदुए द्वारा हमला किया गया था। हमले में जानवर द्वारा बच्चे का एक पैर और मुंह को बुरी तरह से नोच दिया और पैर खा गया।
स्थानीय सूत्रों के मुताबिक अमझेरा थाने के ग्राम भेरूघाट में बीती रात को तेंदुए के हमले में 7 वर्ष के बालक की दर्दनाक मौत हो गई। बच्चा अपने माता-पिता के साथ में खेत पर सोया था। तभी अचानक तेंदुए ने हमला कर दिया और बच्चे को खींच कर ले भागा, उसे पिता ने देख लिया था। कुछ देर तक तो टॉर्च लेकर पिता ने उसका पीछा भी किया लेकिन बाद में वह तेंदुए के पीछे भाग नहीं पाया। अंधेरा और जंगल होने के कारण इस तरह की स्थिति निर्मित हुई। पिता जब अपने साथ में गांव वाले कुछ लोगों को लेकर पहुंचा तो तब तक बच्चे की मौत हो चुकी थी।
इसके बाद तुरंत ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को लेकर अमझेरा आई। इधर 7 साल के बच्चे की दर्दनाक मौत हुई है, क्योंकि उसका चेहरा तेंदुए ने बुरी तरह से चबा दिया है। लंबे समय बाद तेंदुए ने इस तरह का हमला किया है। माना जा रहा है कि यह तेंदुआ अब आदमखोर हो सकता है, इसलिए इसे पकड़ने के लिए विशेष रूप से वन विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी है। वन विभाग का अमला ग्राम भेरूघाट पहुंच चुका है और उसने विशेष रूप से तेंदुए को पकड़ने की कवायद शुरू की है।

Post a comment

 
Top