सरदारपुर/अमझेरा। रविवार रात्रि में अमझेरा थाना क्षेत्र अंतर्गत भेरूघाट में चने के खेत में अपने माता-पिता के साथ सो रहें 7 वर्षीय आनंद पिता मंजराव खराड़ी पर तेंदुए ने हमला कर मौत के घाट उतार दिया था। जिसके बाद नरभक्षी बने तेंदुए को पकड़ने के लिए 4 दिनों से वन विभाग जंगल की खाक छान रहा था। आज सुबह वन विभाग को सफलता मिली है। वन विभाग ने तेंदुए को पकड़ लिया है। जानकारी के अनुसार इंदौर के राला मंडल की रेस्क्यू टीम एवं वन विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद आज सुबह तेंदुए को पिंजरे में कैद कर लिया हैै। तेंदुए को पकड़ने के लिए टीम ने पिंजरा लगाया था। आज सुबह लगभग 5 बजे जैसे ही रेस्क्यू टीम निरीक्षण पर पहुंची वैसे ही उन्हें पिंजरे में तेंदुआ कैद मिला। तेंदूए की उम्र लगभग 4 वर्ष एवं मादा होना बताया जा रहा है।

वन विभाग के एसडीओ राकेश डामर ने बताया की कड़ी मशक्कत के बाद आज सुबह तेंदूओं को पकड़ लिया गया है। पशु चिकित्सा अधिकारी से तेंदूए का स्वास्थ्य परिक्षण करवाया गया है। भोपाल से आदेश मिलते ही तेंदूए को जंगल में छोड़ा जाएगा। 

Post a comment

 
Top